दिवाली: आगरा में तीस हजार रुपए किलो बिक रही है ये सोने की मिठाई, टेस्ट में है…

Naveen Kumar Mishra, Last updated: Thu, 4th Nov 2021, 12:32 PM IST
  • यूपी के आगरा से एक रोचक खबर सामने आ रही है. ताज नगरी आगरा में 30 हजार रुपए किलो एक मिठाई बिक रही है. मिली जानकारी के अनुसार यह मिठाई सोने से बनाई गई है. इसलिए तीस हजारी इस मिठाई को गोल्डन मिठाई भी कहा जा रहा है.
आगरा में तीस हजार रूपए किलो बिक रहा मिठाई, प्रतीकात्मक तस्वीर

 

आगरा। दिवाली खुशियों और प्यार का पावन त्योहार है. त्योहार के मौके पर लोग खरीदारी करने का कोई मौका नहीं छोड़ रहे हैं. लोगअपने गम और शिकवे भुला कर एक-दूसरे का मुंह मीठा करवा रहें हैं और खुशियां बांट रहे हैं. इस बीच यूपी के आगरा से एक रोचक खबर सामने आ रही है. ताज नगरी आगरा में 30 हजार रुपए किलो एक मिठाई बिक रही है. मिली जानकारी के अनुसार यह मिठाई सोने से बनाई गई है. इसलिए तीस हजारी इस मिठाई को गोल्डन मिठाई भी कहा जा रहा है.

 

ब्रिज रसायनम ने बनाई है मिठाई

आगरा में सोने की मिठाई बनाने वाली कंपनी ब्रज रसायनम के निदेशक उमेश कुमार गुप्ता कहते हैं कि 30 हजार रुपए किलो बिकने वाले मिठाई को सोने से बनाई गई है. उन्होंने कहा कि आगरा में इस तरह का यह नया प्रयोग है. पर्व त्योहार के मौके पर कुछ नया करने की चाह में उन्हें इस मिठाई को बनाने के लिए प्रेरित किया है. उन्होंने कहां की आगरा वासी खुशी खुशी गोल्डन मिठाई को खरीदकर अपने घर ले जा रहे हैं.

UP पेट्रोल डीजल 4 नवंबर रेट: Excise VAT घटा, दीपावली पर लखनऊ, कानपुर, गोरखपुर, प्रयागराज में तेल सस्ता

600 रूपए में एक पीस बिक रहा है मिठाई

आगरा में यह सबसे महंगी मिठाई है. गोल्डन मिठाई के एक पीस की कीमत 600 रुपए बताई जा रही है. इन दिनों आगरा के बाजारों में गोल्डन मिठाई की खूब चर्चा हो रही है.

ऐसे बनाई जाती है गोल्डन मिठाई

गोल्डन मिठाई बनाने वाले कारीगरों का कहना है कि इस मिठाई को बनाने के लिए केसर का पेस्ट तैयार किया जाता है और उसमें सोने का वर्क लगाया जाता है. वे लोग बताते हैं कि इस मिठाई में ड्राई फ्रूट्स का भी इस्तेमाल किया जाता है. मिठाई का आकार सोने की कलस की तरह होता है. मिठाई बनाने वाले कारीगर का कहना है कि इस मिठाई को बनाते समय वे लोग काफी उत्साहित रहते हैं. 

Diwali 2021: दिवाली के शुभ मुहूर्त पर करें लक्ष्मी-गणेश पूजा, ये है चौघड़िया और प्रदोष काल से लेकर पूजन विधि

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें