आगरा: मनरेगा के बाद अब पंचायत भवन बनेंगे गरीब प्रवासी मजदूरों के पालनहार

Smart News Team, Last updated: 27/07/2020 08:53 PM IST
  • आगरा में पंचायत भवन अब प्रवासी मजदूरों के पालनहार बनेंगे. उन्हें पंचायत भवन निर्माण का काम दिया जाएगा. इससे वो अपने परिवार का पेट पाल सकते हैं.
आगरा: मनरेगा के बाद अब पंचायत भवन बनेंगे गरीब प्रवासी मजदूरों के पालनहार

आगरा के पंचायत भवन अब प्रवासी मजदूरों के पालनहार बनेंगे. आगरा पहुंचे प्रवासी मजदूरों को जिले में बनने वाले भवनों के निर्माण में काम दिया जाएगा. इन मजदूरों की सूची बनाने का काम पंचायत राज विभाग को सौंप दिया गया है. इनमें उन लोगों को प्राथमिकता दी जाएगी जो कोरोना काल में आगरा आए हैं.

कोरोना काल में बकरीद पर कम कुर्बानी की वजह से मदरसों पर आएगा संकट

दरअसल कोरोनावायरस के कारण हुए लॉकडाउन के दौरान बड़ी संख्या में प्रवासी मजदूर आगरा आए. हालांकि काम बंद होने के कारण इन्हें अपने परिवार का पेट पालने में बेहद परेशानी हो रही थी. पहले सरकारी स्तर पर इन्हें आर्थिक रूप से मदद करते हुए मनरेगा में काम दिया गया. मनरेगा में काम पूरा होने वाला है. इन मजदूरों के दोबारा बेरोजगार होने से पहले सरकार इनको काम देने पर विचार कर रही है. यही कारण है कि पंचायत भवनों के निर्माण के काम में इन्हें लगाए जाने के निर्देश दिए गए हैं.

कोरोना काल में बहनों को तोहफा, रक्षाबंधन के दिन आगरा के सभी रूटों पर चलेगी बस

जिले में सैकड़ों की संख्या में पंचायत भवन बनाए जाने हैं. मनरेगा का काम पूरा होते ही भवन निर्माण में प्रवासी मजदूरों को काम दिया जाएगा जिसकी जिम्मेदारी जिला पंचायत राज अधिकारी को दी गई है. उन्होंने इनकी सूची बनवाने का काम शुरू करा दिया है.

रक्षाबंधन पर चीन को झटका देने की तैयारी में आगरा की आत्मनिर्भर बेटियां

पंचायत भवनों को बनने में अभी समय लगेगा. ऐसे में इन प्रवासी श्रमिकों को काफी दिनों तक रोजगार की समस्या नहीं होगी. मुख्य विकास अधिकारी जे रीभा ने बताया कि जल्द ही पंचायत भवनों के निर्माण का काम शुरू करा दिया जाएगा. इन श्रमिकों को इन भवनों के निर्माण से काफी फायदा होगा.

अन्य खबरें