कोरोना के बढ़ते केस के बाद सर्राफा बाजार बंद, सतर्क रहता प्रशासन तो नहीं आती यह नौबत

Smart News Team, Last updated: 14/07/2020 07:20 PM IST
कोरोना के बढ़ते संक्रमण के खतरे को देखते हुए ताजनगरी के सर्राफा बाजार को बंद कर दिया गया है।
आगरा सर्राफा बाजार बंद

आगरा. कोरोना वायरस के बढ़ते मामले के बाद भी प्रशासन की अनदेखी और लोगों की लापरवाही के कारण सर्राफा बाजार को आखिरकार बंद करना पड़ा। पूरा सर्राफा बाजार बफर जोन में है, इस इलाके से लगातार कोरोना के मामले सामने आ रहे हैं। इस इलाके में जब कोरोना का पहला मरीज मिला था, उसके बाद इलाके में बैरियर लगाया गया था, मगर स्थानीय व्यापारियों ने उस बैरियर का दायरा बढ़ा दिया और प्रशासन ने भी इस पर ध्यान नहीं दिया, जिसके बाद इस इलाके में आज कोरोना के कई मामले सामने आ चुके हैं। 

जिस इलाके में सर्राफा बाजार है, वहां रास्ता काफी संकीर्ण है। पार्किंग के लिये जगह भी नहीं है, हालत यह है कि यहां पैदल चलना भी मुश्किल है। इस इलाके में सबसे पहला कोरोना का मरीज सैनिक प्रेस फाटक में मिला। मरीज के मिलने के बाद कोतवाली पुलिस ने बैरियर लगाकर कुछ एरिया सील कर दिया। सील होने के बाद कई दुकानें प्रभावित हुई।

सेना भर्ती के लिए बनाता था फर्जी दस्तावेज, बन चुका करोड़ों का मालिक, गिरफ्तार

 मिली जानकारी के अनुसार व्यापारियों ने प्रशासन से मिलीभगत के बाद बैरियर का दायरा सीमित करा लिया। इसके बाद इस इलाके में कई मरीज मिले, मगर ना तो यहां सेनिटाइजेशन का काम हुआ और ना ही सील करने की प्रक्रिया का पालन किया गया, जिसकी वजह से यह इलाका कोरोना की संक्रमण में आता चला गया। 

लॉकडाउन में चोरी-छुपे करा दी बच्चियों की शादी, अब प्रेग्नेंसी जान पर भारी

हालात यह थी कि कोरोना केस मिलने के बाद भी बाजार लगातार खुलते रहे। आज यह पूरा इलाका कोरोना की चपेट में आ गया। सरकार ने अनलॉक वन को लेकर गाइडलाइन जारी करते वक्त निर्देश दिया था कि तीन से अधिक संक्रमित मिलने पर इलाके को बफर जोन बनाया जाएगा, मगर यह आदेश भी यहां लागू नहीं हुआ। अब जब कोरोना यहां गंभीर समस्या बन चुकी है, तब जाकर जिलाधिकारी ने मामले का संज्ञान लिया और इलाके को बफर जोन घोषित कर दुकानों को बंद करा दिया है। 

अन्य खबरें