आगरा: बस मालिक की कोरोना से हुई मौत तो कर्ज देने वाले ने किया बस को हाइजैक

Smart News Team, Last updated: 19/08/2020 04:41 PM IST
  • आगरा में मंगलवार रात को हाइजैक हुई बस मामले में खुलासा हुआ है कि बस मालिक की एक दिन पहले कोरोना से मौत हुई थी. बस मालिक को कर्ज देने वाले ने उसके परिवार वालों पर पैसों का दबाव बनाने के लिए बस को हाइजैक किया था.
बस मालिक की कोरोना से हुई मौत तो कर्ज देने वाले ने किया बस को हाइजैक. बस इटावा के पास लखीरी कुआं पीएस बलराई के एक ढाबे पर मिली.

आगरा. आगरा से हाइजैक बस बुधवार दिन में इटावा के पास मिली. बस इटावा के पास लखीरी कुआं पीएस बलराई के एक ढाबे पर मिली. बस इटावा में बरामद होने के बाद आगरा पुलिस इटावा पहुंच गई है. उन्होंने सवारियों से बात की. सभी सवारियां सुरक्षित बताई जा रही हैं. पुलिस वालों ने यात्रियों से बात की तो पता चला कि ये मामले फाइनेंस कंपनी से जुड़ी नहीं है. दरअसल, बस मालिक और उसे कर्ज देने वाले के बीच विवाद का मामला है.

पहला बताया गया था कि फाइनेंस कंपनी के लोगों ने बस को हाइजैक किया है. पुलिस को जांच में पता चला कि उधारी नही चुकाने पर प्रदीप गुप्ता नाम के शख्स ने बस हाइजैक की थी. प्रदीप मूल रूप से इटावा का निवासी है. वो वर्तमान में फिरोजाबाद में रहता है. 

मथुरा: स्पा सेंटर की आड़ में सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, 4 कॉल गर्ल समेत 7 अरेस्ट

प्रदीप उस बस के मालिक अशोक अरोड़ा को कुछ समय पहले कुछ रुपए उधार में दे चुका है. अशोक अरोड़ा की कल कोरोना से मौत हो गई. इसी के बाद अपने पैसे वापस लेने के एवज में प्रदीप ने बस हाइजैक की.

झांसी में मिली आगरा से हाईजैक बस, सीएम योगी आदित्यनाथ ने तलब की मामले की रिपोर्ट

पुलिस ने बताया कि अशोक की बेटी का नाम कल्पना है और उसी के नाम पर उसी कंपनी है कल्पना ट्रैवल एजेंसी. अशोक ग्वालियर निवासी है. बस गुड़गांव से मध्यप्रदेश जा रही थी जब उसे आगरा में हाइजैक किया गया. जानकारी के मुताबिक प्रदीप गुप्ता पिछले तीन-चार दिन से लगातार बस मालिक के घर ग्वालियर तगादा करने जा रहा था. बस मालिक की मौत की खबर के बाद उसने बस को हाईजैक कर लिया.

आगरा: कंडक्टर से टिकट के पैस वापस करवाकर 34 सवारियों समेत बस को किया हाईजैक

जांच के दौरान पुलिस को एक सीसीटीवी फुटेज मिला था जिसमें गाड़ी सवार की फोटो आ रही थी. उस फोटो के आधार पर बस मालिक के परिवार वालों से पूछताछ की गई. इस दौरान बस मालिक की पत्नी और बेटे ने फोटो में शख्स की पहचान प्रदीप गुप्ता के रूप में की. पुलिस प्रदीप गुप्ता की तलाश में है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें