आगरा

आगरा: सेंट्रल जेल में 67 साल के सजायाफ्ता बंदी की मौत, कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव

Smart News Team, Last updated: 13/06/2020 06:54 PM IST
  • आगरा की सेंट्रल जेल में उम्र कैद की सजा काट रहे 67 वर्षीय कैदी की शुक्रवार रात मौत हो गई। तबियत बिगड़ने पर उसका कोरोना टेस्ट भी कराया गया था लेकिन रिपोर्ट नेगेटिव आई है।
आगरा सेंट्रल जेल में बंद सजायाफ्ता कैदी भागीरथ की 67 साल की उम्र में मौत हो गई।

आगरा. जिले की सेंट्रल जेल में उम्र कैद की सजा काट रहा कैदी भागीरथ (67) का शुक्रवार की रात निधन हो गया। भागीरथ का पेशाब की नली में गांठ का इलाज पिछले काफी समय से केजीएमयू लखनऊ में चल रहा था। हाल ही में तबियत बिगड़ी तो कोरोना का टेस्ट कराया गया जिसकी रिपोर्ट भी नेगेटिव आई थी। जेल अस्पताल से बंदी का शव पोस्टमार्टम के लिए भेजकर परिजनों को सूचना दे दी है।

मिली जानकारी के अनुसार, झांसी के गोंदू कंपाउंड थाना सीपरी निवासी भागीरथ उर्फ ढपली को साल 2010 में झांसी की अदालत ने गैर इरादतन हत्या के आरोप में आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी। भागीरथ 8 सितंबर 2013 से सेंट्रल जेल आगरा में बंद था। पिछले काफी समय उसका केजीएमयू लखनऊ के यूरोलॉजिस्ट के परामर्शानुसार इलाज चल रहा था। शुक्रवार रात जेल अस्पताल में उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई।

वीके सिंह वरिष्ठ अधीक्षक सेंट्रल जेल ने इस संबंध में कहा कि भागीरथ साल 2013 से सेंट्रल जेल में बंद था। उसका इलाज चल रहा था। पिछले दिनों तबियत बिगड़ने पर कोरोना टेस्ट भी कराया लेकिन रिपोर्ट नेगेटिव आई थी। शुक्रवार रात जेल अस्पताल में उसका निधन हो गया। जेल प्रशासन ने उसके परिवार को सूचना दे दी है और वे शव को लेने झांसी से आगरा आ रहे हैं।

अन्य खबरें