आगरा की आबोहवा फिर हुई खराब, प्रदूषण के मामले में दिल्ली को भी पछाड़ा

Smart News Team, Last updated: 27/11/2020 11:23 PM IST
  • आगरा की हवा दिन पर दिन बिगड़ती ही जा रही है. चारों तरफ हो रहे निर्माण कार्यों के कारण आगरा की आबोहवा काफी हद तक खराब हो चुकी है. हैरान करने वाली बात तो यह है कि जिले में प्रदूषण का स्तर इस कदर बढ़ गया है कि प्रदूषण के मामले में आगरा ने दिल्ली को भी पीछे छोड़ दिया है.
आगरा की हवा में फिर घुला प्रदूषण

आगरा:आगरा की हवा दिन पर दिन बिगड़ती ही जा रही है. चारों तरफ हो रहे निर्माण कार्यों के कारण आगरा की आबोहवा काफी हद तक खराब हो चुकी है. हैरान करने वाली बात तो यह है कि जिले में प्रदूषण का स्तर इस कदर बढ़ गया है कि प्रदूषण के मामले में आगरा ने दिल्ली को भी पीछे छोड़ दिया है. यहां तक कि ताजनगरी देश के सबसे प्रदूषित शहरों में सातवें नंबर पर आ गई है. केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने आगरा के एक्यूआई को लेकर सूची भी जारी की थी.

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड द्वारा बीते गुरुवार को आगरा का एक्यूआई लेवल 318 दर्ज किया गया था. उत्तर प्रदेश में आगरा चौथा सबसे प्रदूषित शहर बन चुका है. बताया जा रहा है कि सुबह बारिश होने के बाद धूल कणों की मात्रा कुछ हद तक कम हो गई थी, लेकिन इसके बाद भी यहां का एक्यूआई 318 दर्ज किया गया था. आगरा में सुबह से लेकर शाम तक पर्टिकुलेट मैटर 2.5 माइक्रोग्राम की मात्रा जिले में सामान्य से 4 से छह गुना ज्यादा के बीच बनी रही.

प्रेमी के तोहफे को जब किया इस्तेमाल, लड़की के दरवाजे पर पहुंची पुलिस, उड़े होश

इससे इतर आगरा में कार्बन मोनोक्साइड की मात्रा दोपहर में एक बजे सबसे ज्यादा रही और यह 20 गुना तक ज्यादा जिले में बनी रही. जिले में बारिश होने के बाद भी यहां धूल के कणों की संख्या में ज्यादा गिरावट नहीं आई है. आगरा से इतर कानपुर और लखनऊ उत्तर प्रदेश में सबसे ज्यादा प्रदूषित शहर बना रहा. जहां कानपुर में एक्यूआई लेवल 390 दर्ज किया गया तो वहीं लखनऊ में एक्यूआई की मात्रा 375 बनी रही. इससे इतर दिल्ली में एक्यूआई का स्तर 302 रहा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें