आगरा: पॉश इलाकों में कहर बरपा रहा कोरोना, घर के नौकर न बन जाएं कैरियर

Smart News Team, Last updated: 10/08/2020 07:05 PM IST
  • ताजनगरी आगरा में कोरोना वायरस लगातार हाहाकार मचा रहा है. शहर के पॉश इलाकों में कोरोना का संक्रमण तेजी से बढ़ता जा रहा है.
आगरा के पॉश इलाकों में कोरोना ने कहर मचाया.

कोरोना अब आगरा शहर के पॉश इलाकों में अपना कहर दिखा रहा है. वहीं शहर के छोटे इलाकों में भी कोरोना का असर तेज है. अगस्त में संक्रमितों की मिली 40 फीसदी संख्या पॉश इलाकों से है. कोरोना टास्क फोर्स को इन लोगों के संपर्क में आने वालों की ज्यादा चिंता है. 

विशेषज्ञों का मानना है कि लॉकडाउन के दौरान लोगों ने घरों के नौकरों को छुट्टी दी थी जो अब वापस काम पर आ गए हैं. इस कारण पॉश इलाकों में कोरोना संक्रमितों की संख्या अधिक हो गई है.

ताजनगरी के अगस्त महीने के 10 दिनों के आंकड़ों को देखा जाए तो 299 संक्रमित केसों में लगभग सवा सौ संक्रमित पॉश इलाकों में मिले हैं. जिसके कारण बाहरी लोगों के आने-जाने पर रोक लगाई गई है. इन इलाकों में व्यवसायी और अधिकारी वर्ग के लोग होने के कारण हर दिन अन्य लोगों से मिलना भी संक्रमण का कारण माना जा रहा है. साथ ही लोगों द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग का भी पूरी तरह से पालन नहीं किया जा रहा है और घरों-ऑफिसों में भी नियमित रूप से सैनिटाइजेशन भी नहीं हो रहा है. 

आगरा: रिजॉर्ट बन गया था जुए का अवैध अड्डा, SP ने मारा छापा, 22 गिरफ्तार

कोरोना टास्क फोर्स ने चिंता जताई कि पॉश इलाकों के संक्रमितों से पिछले दिनों जिन लोगों ने संपर्क किया उनका पता लगाना भी जरूरी है. इस मामले में पुलिस सर्विलांस टीम की मदद भी ली जा रही है. वहीं आगरा के छोटे इलाकों में लॉकडाउन में रियायत मिलने के बाद स्थिति खराब हो गई है. कोरोना रोकथाम की गाइडलाइंस का भी लोग पूरी तरह से पालन नहीं कर रहे हैं. 

कोरोना को लेकर बैठक में डिप्टी CM दिनेश शर्मा की तबियत बिगड़ी, नाक से निकला खून

जिलाधिकारी प्रभु एन सिंह ने लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिए कहा है और मास्क ना लगाए जाने के कारण लोगों के चालान किए करने के लिए कहा है. इसी के साथ लोगों से जरूरत होने पर ही घर से निकलने के लिए कहा है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें