महिलाओं में तेजी से बढ़ रहा कोरोना संक्रमण, सामने आ रहे डराने वाले आंकडे़ं...

Smart News Team, Last updated: 04/08/2020 07:37 PM IST
आगरा में महिलाओं में बढ़ते कोरोना संक्रमण ने स्वास्थ्य अधिकारियों को परेशानी में डाल दिया है. इससे परिवार में सामूहिक संक्रमण का खतरा बढ़ रहा है.
आगरा में महिलाओं में कोरोना संक्रमण की दर तेजी से बढ़ रही है.

महिलाओं में कोरोना वायरस की बढ़ती दर से सामूहिक संक्रमण का खतरा बन गया है. स्वास्थ्य विभाग के अनुसार महिलाओं में संक्रमण की दर लगातार बढ़ती जा रही है. मार्च में दो महिलाएं कोरोना की शिकार हुई थी. वहीं जुलाई में 211 कोरोना संक्रमित पाई गईं. 

कोरोना वायरस के आंकड़े हर दिन स्थिति को चिंताजनक बना रहे हैं, जून के मुकाबले संक्रमण की दर करीब दो गुना से अधिक बढ़ी है. विशेषज्ञों के अनुसार महिलाओं में संक्रमण की बढ़ती दर से परिवार में सामूहिक संक्रमण का खतरा अधिक है. 

ताजमहल खोलने को लेकर दो फाड़ हुए आगरा के कारोबारी, जानिए क्या बोल रहे दोनों पक्ष

स्वास्थ्य विभाग और आईसीएमआर के अनुसार आगरा में मार्च के महीने में सिर्फ दो महिलाएं कोरोना संक्रमित हुई थीं. अप्रैल में इनकी संख्य 120 के करीब पहुंच गई थी. मई 300 के करीब पुरुषों और 136 महिलाओं को कोविड ने अपनी चपेट में लिया था. जून महीने में संक्रमण की दर में थोड़ी गिरावट देखने को मिली थी जिसमें 116 महिलाएं कोरोना पॉजिटिव पाई गई थीं. 

कोरोना पॉजिटिव आते ही ससुराल में जा छिपा आगरा का युवक, पुलिस ने ऐसे पकड़ा…

विशेषज्ञों के अनुसार माना जा रहा है कि अगस्त के महीने में भी कोरोना संक्रमण की दर इसी तरह रह सकती है. आगरा में कुल आंकड़ों में भी बढ़ोतरी देखने को मिली है. जुलाई महीने में 50 हजार से अधिक कोरोना टेस्ट किए गए थे जिसमें 1800 से अधिक संक्रमित लोगों की पहचान की गई है. 

आगरा: महिला डॉक्टर ने की आत्महत्या की कोशिश, फंदे पर मिली लटकी, हालात गंभीर

स्वास्थ्य विभाग के अनुसार मॉनसून में कोरोना संक्रमण की दर को बढ़ाया है. जानकारी के लिए बता दें कि प्रशासन ने बढ़ते आंकड़ों को ध्यान में रखते हुए अभी तक सार्वजनिक स्थानों को खोलने की अनुमति भी नहीं दी है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें