आगरा

कोरोना के नए ट्रेंड से बढ़ी आगरा की चिंता, पुराने इलाकों में नए मरीज से हड़कंप

Smart News Team, Last updated: 02/07/2020 10:04 AM IST
  • आगरा में कोरोना वायरस के बदलते ट्रेंड ने सबको मुश्किलों में डाल दिया है। अब शहर के पुराने इलाकों से नए कोरोना संक्रमित मिलने से प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग के लिए परेशानी बढ़ गई है।
आगरा के बसंत विहार की तस्वीर.

आगरा में कोरोना वायरस के बदलते ट्रेंड ने सबको मुश्किलों में डाल दिया है। अब शहर के पुराने इलाकों से नए कोरोना संक्रमित मिलने से प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग के लिए परेशानी बढ़ गई है। इन इलाकों में पहले भी कोविड-19 संक्रमित केस मिल चुके हैं। नए ट्रेंड के कारण अब स्वास्थ्य विभाग इन इलाकों पर भी फोकस करने जा रहा है। अब इन इलाकों में घर-घर सर्वे करने के साथ आने-जाने वालों की भी जानकारी ली जाएगी।

पिछले दो माह से प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के लिए राहत की बात ये थी कि जहां पहले केस मिले थे, वहां से कोई नया केस नहीं मिल रहा था, लेकिन जून में उन इलाकों से भी नए केस मिले हैं। ये यह इलाके हैं जहां पहले बड़ी संख्या में संक्रमित केस मिले थे। बदले हुए इस ट्रेंड ने स्वास्थ्य विभाग और जिला प्रशासन की परेशानी बढ़ा दी है। अब इन इलाकों पर भी फोकस करने की रणनीति तैयार की गई है। जिससे इन इलाकों को फिर से सुरक्षित किया जा सके।

कोरोना टास्क फोर्स ने इन इलाकों में घर-घर फिर से सर्वे कराने के साथ लोगों के घरों पर आने-जाने वाले लोगों की भी जानकारी करने का निर्णय लिया है। जिससे इन लोगों के भी सैंपल लिए जा सकें। अभी जिले में 54 कंटेनमेंट जोन हैं।

इस बाबत जिला अधिकारी प्रभु एन सिंह ने कहा कि जितने पुराने इलाकों से नए संक्रमित केस मिल रहे हैं, उन इलाकों में फिर से सर्वे कराया जाएगा। जरूरत पड़ने पर सैंपलिंग कराई जाएगी।

अन्य खबरें