कोरोना काल में ताजनगरी के लिए खुशखबरी, SNMC में जल्द आएगा रेमडेसीवीर इंजेक्शन

Smart News Team, Last updated: 21/07/2020 09:55 AM IST
  • कोरोना काल में ताजनगरी के लिए यह अच्छी खबर है। कोरोना के इलाज में अब तक बेहद मददगार रेमडेसीवीर इंजेक्शन इसी सप्ताह आगरा के एसएन मेडिकल कालेज में आ जाएगा।
एसएनएमसी में जल्द आएगा 'रेमडेसीवीर' इंजेक्शन

कोरोना काल में ताजनगरी के लिए यह अच्छी खबर है। कोरोना के इलाज में अब तक बेहद मददगार रेमडेसीवीर इंजेक्शन इसी सप्ताह आगरा के एसएन मेडिकल कालेज में आ जाएगा। जरूरतमंद कोविड-19 मरीजों के लिए इसे बनाने वाली कंपनी सीधे अस्पताल भेजेगी। डीएम के निर्देश पर ड्रग विभाग ने कंपनी से सीधी बात की है और कंपनी ने इसी सप्ताह के भीतर इंजेक्शन मुहैया कराने का वादा किया है।

अब सुबह 9 से रात नौ बजे तक खुलेंगे आगरा के बाजार, सर्राफा मार्केट भी खुला

दिल्ली में रेमडेसीवीर इंजेक्शन की कालाबाजारी और आगरा में इसके प्रयोग की खबरों के बाद डीएम ने इसका संज्ञान लिया। उन्होंने ड्रग विभाग के अफसर तलब किए। इंजेक्शन की उपलब्धता और बिक्री के बारे में पूछा। सोमवार को ड्रग इंस्पेक्टर जुनाब अली ने उन्हें रिपोर्ट पेश की। उन्होंने बताया कि देश में फिलहाल तीन कंपनियां इसे बना रही हैं। इनमें सिपला, मिलान और हेट्रो शामिल हैं। सभी की औसत कीमत पांच हजार रुपए के आसपास है।

आगरा में किसी भी कंपनी ने अपने स्टाकिस्ट, डीलरों को सीधे माल नहीं बेचा है। किसी अस्पताल में भी इसके प्रयोग की जानकारी नहीं है। डीएम ने उनसे कहा कि वे कंपनियों से बात करके गंभीर मरीजों के लिए आगरा में इसकी उपलब्धता के बारे में बात करें। इसके बाद ड्रग इंस्पेक्टर ने सिपला की गाजियाबाद स्थित डिपो से बात की है। पता चला है कि वहां अभी सिर्फ 100 वायल रोज आ रही है। इसमें से आगरा को भी डोज मिल सकती है। बशर्ते आगरा के अस्पतालों को दवा खरीद के मानक पूरे करने होंगे।

कोरोना काल: बच्चों की फीस वसूलने को स्कूलों का प्लान B, जानकर दंग रह जाएंगे

इसे लेने के लिए संबंधित अस्पताल को मरीज का नाम, फोन नंबर, आधार नंबर, भुगतान करने वाले तीमारदार का आधार नंबर, डॉक्टर का पर्चा भेजना होगा। इसी के आधार पर कंपनी उसके लिए उचित वायल भेज देगी। कंपनी इसके लिए जायज कीमत ही वसूलेगी। बता दें कि इस इंजेक्शन को अधिक समय तक नहीं रखा जा सकता। इसकी एक्सपायरी सिर्फ तीन महीने की है।

औषधि निरीक्षक जुनाब अली ने कहा 'डीएम के निर्देश पर हमने सिपला से बात की है। कंपनी के अधिकारियों ने सिर्फ एसएन मेडिकल कॉलेज को वायल भेजने का वादा किया है। अस्पताल मरीज की पूरी जानकारी भेजेगा, उसी के मुताबिक वायल भेज दी जाएंगी। इससे गंभीर मरीजों को राहत मिलेगी।'

अन्य खबरें