आगरा

गुटखा तलब में अस्पताल से भागा कोरोना संक्रमित, पकड़ने को दौड़े डॉक्टर और स्टाफ

Smart News Team, Last updated: 12/07/2020 02:16 PM IST
  • आगरा में एक कोरोना संक्रमित मरीज पान मसाले (गुटखा) की तलब में अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड से भाग गया।
प्रतीकात्मक तस्वीर

आगरा. कोरोना काल में संक्रमित मरीजों के अलग अलग तरह के ड्रामे देखने को मिल रहे हैं। ताजा मामला ताजनगरी के एसएनएमी अस्पताल का है जहां भर्ती कोविड-19 संक्रमित व्यक्ति पान पसाले (गुटखा) के लालच में दबे पांव भाग निकला। शहर के गांधीनगर इलाके में उसने अपनी तलब को पूरा किया। फिर वह अपने दोस्त की ससुराल भी पहुंचा। तलब होने पर जब दोबारा गांधीनगर की दुकान पर पहुंचा तो स्वास्थ्य विभाग की टीम के हाथ आ गया।

ताजनगरी के राजपुर चुंगी निवासी 35 साल के इन भाईसाहब की पिछले 15 दिनों से तबीयत खराब थी। शुक्रवार को रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव मिली। रात 2:30 बजे एसएनएमसी में भर्ती कराया गया। शनिवार दोपहर कपड़े बदलकर मरीज ने पहले अस्पताल में तैनात सुरक्षाकर्मी के दाएं-बाएं होने का इंतजार किया। जैसे ही उसके वार्ड का रास्ता साफ हुआ, दबे पांव बाहर निकल गया।

सिपाही पत्नी को दारोगा संग रंगे हाथ पकड़ा था सिपाही पति, अब जानें क्या हुआ अंजाम

अस्पताल से बाहर निकलते ही मरीज पूरे मन से दौड़ लगा दी। उसे पकड़ने के लिए डॉक्टर और स्टाफ के लोग भी दौड़े, लेकिन वह गलियों से भाग गया। जहां से पहले वह नूरी दरवाजा पहुंचा फिर रिक्शा लेकर वे गांधीनगर पहुंच गया। गांधीनगर में वह अपने एक दोस्त की ससुराल पहुंचकर किसी अस्पताल में भर्ती कराने के लिए कहने लगा। हालांकि, उसने यह नहीं बताई कि कोरोना संक्रमित है।

जब ससुराल के लोगों ने मरीज के दोस्त को फोन किया तो हकीकत सामने आ गई जिसके बाद वहां खलबली मच गई। वहां से निकलने के बाद जब वह फिर परिचित की दुकान पर तलब मिटाने के लिए पहुंचा तो उसका पीछा कर रही स्वास्थ्य विभाग की टीम की पकड़ में आ गया।

कोरोना इफेक्ट: लॉकडाउन में पतियों ने कर ली दूसरी शादी, पत्नियां कर रही इंतजार..

अन्य खबरें