आगरा : रिक्शा व्यापारी की रेकी के बाद हुई थी हत्या,पुलिस ने खंगाले CCTV फुटेज

Smart News Team, Last updated: 28/08/2020 11:50 AM IST
  • आगरा में बुधवार को रिक्शा व्यापारी ललित काठपाल की लूट के बाद हत्या कर दी थी. मामला लूट का माना जा रहा था. इसके बाद पुलिस की जांच में सामने आया है कि बदमाश व्यापारी और उनके भाई का पीछा काफी देर से कर रहे है.इसके बाद बदमाश व्यापारी को गोली मारकर और थैला लूटकर फरार हो गए थे.
बुधवार को कमला नगर के व्यापारी ललित काठपाल की बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी .व्यापारी के छोटे भाई रिंकू से पूछताछ करती पुलिस

आगरा. कमला नगर के रश्मि नगर में बुधवार की शाम को रिक्शा व्यापारी ललित काठपाल की हत्या कर दी गई थी. ललित अपने छोटे भाई रिंकू के साथ जा रहे थे. जिसके बाद बदमाशों ने उनकी गोली मार कर हत्या कर दी थी. इस मामले की पुलिस जांच कर रही थी. पुलिस के द्वारा सीसीटीवी कैमरे खंगालने पर यह सामने आया है कि घटना रेकी के बाद हुई है. बदमाशों ने अचानक ही दोनों भाइयों को नहीं घेरा था. बदमाश काफी दूर से उनके पीछे लगे हुए थे . रेकी के बाद ये घटना हुई है. बदमाश जिस थैले को लूटकर ले गए हैं उसमें मोटे कैश का अनुमान था. हालांकि परिजन इस बात का खंडन कर रहे हैं.

पुलिस ने इस मामले में आरोपियों पर हत्या का मामला दर्ज़ किया था.लेकिन पुलिस सीसीटीवी कैमरे खंगाल कर लूट के नजरिए से भी जांच कर रही थी.जब पुलिस ने फुटेज खंगाले तो एक जगह फुटेज में घटना स्थल से 900 मीटर पहले बदमाश बाइक पर देखें.आगे ललित और रिंकू बाइक पर जा रहे थे. एक जगह बदमाश कुछ देर के लिए रुके भी थे . उस समय ललित की बाइक पीछे रह गई थी.इसी जगह बदमाशों ने उन्हें ओवरटेक किया. बदमाशों ने घटना को उस समय अंजाम दिया जहां काफी सुनसान रहता है. हालांकि दोनों तरफ मकान है लेकिन लोग अपने घरों में थे. इसलिए इस पर यह बात तो साफ है कि घटना लूट के लिए हुई थी.

आगरा में बदमाशों का आतंक, कमलानगर में कारोबारी की गोली मारकर हत्या

जानकारी के अनुसार कावेरी कुंज फेस द्वितीय के रहने वाले 44 वर्षीय ललित काठपाल की बुधवार को गोली मारकर हत्या कर दी गई.ललित का घटिया आजम खां क्षेत्र में रिक्शे का थोक व्यापार है. बुधवार की शाम वह अपने छोटे भाई रिंकू के साथ बाइक से घर लौट रहे थे.रिंकू शहर के प्रमुख गुटखा व्यापारी के यहां कर्मचारी है और रोज मेटाडोर से अलीगढ़ अप डाउन करता है. साथ ही वह कंपनी का कैश का कलेक्शन भी करता है.ललित के घर से 150 मीटर पहले बाइक सवार तीन बदमाशों ने दोनों भाइयों को घेरा. थैला रिंकू ने पकड़ा हुआ था और शायद बदमाशों को यह खबर थी कि थैले में गुटका मालिक का कैश है.लेकिन परिजनों ने बताया कि थैले में खाने का टिफिन था.

रिया चक्रवर्ती का आगरा कनेक्शन, ताजनगरी में मिली थी करियर को उड़ान

पुलिस ने इस मामले में रिंकू से भी पूछताछ की है. उन्हें लग रहा था कि रिंकू कुछ छिपा रहा है.पूछताछ में पुलिस को यह पता चला कि रिंकू शाम को दुकान तक नहीं पहुंचा था.उसने ललित से फोन पर बात की. ललित ने उसे रास्ते में बाइक पर बिठाया और दोनों भाई घर आ रहे थे.शायद बदमाशों के निशाने पर रिंकू था और वे उस थैले को ही लूटना चाहते थे इसलिए उन्होंने डराने के लिए पिस्तौल निकाली. इसके बाद गोली चल गई.हालांकि अभी इस बात की पुष्टि नहीं हुई है.पहले एक पहलू यह भी था कि बदमाश सिर्फ हत्या करने आए थे. लेकिन पुलिस का कहना है कि यदि बदमाश हत्या करने आते तो सिर्फ एक गोली नहीं चलाते.ललित बच ना जाए यह सोचकर कई गोली चलाते.यहां सिर्फ एक गोली चलाई गई थी इसलिए पुलिस इस मामले को लूट के दौरान हत्या का ही लग रहा है. साथ ही पुलिस दूसरे पहलुओं पर भी विचार कर रही है.

आगरा: डॉ योगिता का मर्डर करने के बाद आरोपी विवेक करना चाहता था सुसाइड

क्षेत्र में लगातार लूट की घटनाएं बढ़ रही हैं. पिछले दिनों सिकंदरा क्षेत्र में रिटायर शिक्षक के घर एक डकैती हुई जिसमें भी पुलिस ने लूट की धारा में मुकदमा दर्ज किया.लेकिन जब बाद में घटना की पोल खुली तो पुलिस ने डकैती की धारा में आरोपियों को जेल भेजा. अब कमला नगर में एक व्यापारी की लूट के दौरान हत्या हुई है. लेकिन पुलिस ने मुकदमा से हत्या का लिखा ताकि घटना की गंभीरता कम हो जाए. गौरतलब है कि प्रदेश पुलिस के मुखिया डीजीपी के संज्ञान में भी यह मामला है. उन्हें भी यह बताया गया था की लूट करने आए बदमाशों ने गोली मार दी जिससे एक युवक की मौत हो गई. लेकिन इसके बावजूद मुकदमे में लूट की धारा नहीं लगाई गई है. इसलिए पुलिस की इस कार्यप्रणाली पर भी सवाल उठ रहे हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें