आगरा: मेट्रो में नौकरी का झांसा देकर ठगे 35 हजार रुपये, पुलिस जांच में जुटी

Smart News Team, Last updated: Thu, 12th Aug 2021, 11:37 AM IST
  • आगरा में मेट्रो में नौकरी दिलाने के नाम पर एक युवक 35 हजार रुपये की ऑनलाइन ठगी का शिकार हुआ है. इस मामले को लेकर युवक ने पुलिस को सूचना दी है और पुलिस मामले की जांच में जुट गई है.
आगरा में मेट्रो में नौकरी नौकरी दिलाने के नाम पर युवक से ठगे 35 हजार रुपये

आगरा. बेरोजगारी में हर युवा नौकरी की तलाश के लिए परेशान है और इसका फायदा साइबर क्राइम करने वाले उठा रहे हैं. साइबर क्राइम को लेकर आगरा में कई मामले सामने आए हैं. ऐसा ही कुछ हाल ही में हुआ है यहां पर एक युवक से साइबर अपराधियों ने मेट्रो में नौकरी दिलाने के नाम पर 35 हजार रुपये की ठगी की है. जब उसे अहसास हुआ कि नौकरी के नाम पर वह ऑनलाइन ठगी का शिकार हुआ है तो उसने इस बात की जानकारी पुलिस को दी. वहीं पुलिस ने मामले की शिकायत मिलने के बाद साइबर सेल की मदद से जांच शुरू कर दी है.

बता दें यह पूरा मामला आगरा के सदर क्षेत्र का है और यह घटना सदर क्षेत्र के निवासी सुधांशु के साथ हुई है. पुलिस को शिकयात देते हुए बताया कि वह इंटरनेट पर नौकरी की तलाश कर रहा था. इसी बीच उसे सोशल मीडिया पर एमपी सिंह नाम के व्यक्ति की प्रोपाइल दिखी. इस प्रोफाइल में इसने उसने खुद को मेट्रो रेल कॉरपोरेशन में एचआर लिखा हुआ था. इस प्रोफाइल से जुड़ के उसने नौकरी के लिए इससे बात की तो इसने अपने दोस्त रोहित सिंघल का नंबर दे दिया और फिर से इससे नौकरी की बात हुई.

एमपी सिंह ने सुंधाशु को बताया था कि आगरा में मेट्रो का काम शुरू हो गया है और वहां भर्तियां चल रही हैं. एमपी सिंह की प्रोफाइल पर कई लोगों के ऑफर लेटर भी थे. इस बात से पीड़ित को यकीन हो गया फिर आरोपियों ने उससे नौकरी के नामपर 70 हजार रुपये देने की बात की. कहा कि नौकरी से पहले आधे पैसे देने होंगे और आधे बाद में. फिर सुधांशु ने 13 मई को 35 हजार रुपये उनके द्वारा बताए हुए खाते में ट्रांसफर कर दिए और एक महीने के अंदर उसे ऑफर लेटर देने के लिए कहा.

आगरा में ठगी की कई वारदातें, चाचा बनकर फोन करने वाले ने उड़ाए 78 हजार

खाते में पैसे आने के दो दिन बाद ही इन शातिरों ने अपना सोशल मीडिया अकाउंट डिलीट करके मोबाइल नंबर ब्लाक कर दिया गया. इससे पहले सुधांशु के पिता भी ऑनलाइन ठगी का आठ माहीने पहले शिकार हुए थे. सुधांशु के पिता के क्रेडिट कार्ड से शातिरों ने एक लाख रुपये निकाल लिए थे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें