आगरा में मां-बेटी को एक महीने तक घर में बंधक बनाकर रखा, बच्‍ची से हैवानियत

Sumit Rajak, Last updated: Wed, 23rd Feb 2022, 1:47 PM IST
  • आगरा के सिकंदरा थाना क्षेत्र में साल वर्षीय बालिका और उनकी मां के साथ घर में एक महीने तक बंधक बनाकर हैवानियत करने का मामला सामने आया है. इस दौरान महिला ने पुलिस तक पहुंचने का प्रयास किया तो उसके साथ मारपीट की गई.मंगलवार को महिला ने पीड़ित बेटी के साथ चाइल्ड लाइन में शिकायत की.
प्रतीकात्मक फोटो

आगरा. आगरा में सिकंदरा थाना क्षेत्र में साल वर्षीय बालिका और उनकी मां के साथ घर में एक महीने तक बंधक बनाकर हैवानियत करने का मामला सामने आया है. इस दौरान महिला ने पुलिस तक पहुंचने का प्रयास किया तो उसके साथ मारपीट की गई. वहीं महिला के मायके वालों ने पुलिस की मदद से दोनों को ससुराल से निकाला. मंगलवार को महिला ने पीड़ित बेटी के साथ चाइल्ड लाइन में शिकायत की.

महिला के ने बताया कि घटना 11 जनवरी की है, जब सात वर्षीय पुत्री समेत चारों बच्चों को उसके चाचा के पास छोड़कर अपनी रिश्तेदारी के पास गई थी. वह कई घंटे बाद घर लौटी तो पुत्री ने दर्द की शिकायत की. इसके बाद सास के साथ पुत्री को लेकर भरतपुर के डीग में एक प्राइवेट क्लीनिक से इलाज कराया. साथ ही पुलिस केस बताते हुए इसकी शिकायत करने की कहा. पीड़िता के अनुसार उसने पति और सास से देवर पर कार्रवाई को कहा. दोनों बदनामी व परिवार बिखरने का हवाला देकर उसे चुप कराने का प्रयास करते रहे. पीड़िता ने बताया कि  विरोध किया तो सास ने उसका मोबाइल अपने कब्जे में ले लिया. उसके व पुत्री के घर से बाहर निकलने पर पाबंदी लगा दी.

आगरा-मुंबई के लिए फ्लाइट फिर होगी शुरू, इंडिगो का विमान 2 मार्च से भरेगा उड़ान

मायके वाले 20 फरवरी को महिला से मिलने आए थे. ससुराल वालों के व्यवहार से उन्हें शक हो गया. उन्होंने 112 नंबर पर सूचना देकर पुलिस को बुला लिया. उसकी मदद से मां-बेटी को वहां से निकाला, पीड़िता ने मायके वालों को पुत्री के साथ हुई घटना की जानकारी दी.जिस पर मंगलवार को पीड़िता अपनी पुत्री को लेकर चाइल्ड लाइन के सामने प्रस्तुत हुई. चाइल्ड लाइन समन्वयक ऋतु वर्मा ने बताया कि मामले में अधिकारियों से शिकायत की जाएगी.

मामले में इंस्पेक्टर सिकंदरा बलवान सिंह ने बताया कि मामला देवर-भाभी के विवाद का है. जिस घर में बंधक बनाने की बात कही जा रही है, उसमें एक दर्जन से अधिक लोग रहते हैं. आरोप लगाने वाली महिला की बहन की शादी भी उसी घर में हुई है. बुधवार को दोनों पक्ष को बुलाया गया है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें