फर्जी ट्रेवल कंपनी से सस्ते टूर पैकेज पर दिखाता दुनिया घुमाने के सपने, अरेस्ट

Smart News Team, Last updated: 25/08/2020 11:12 PM IST
  • सस्ते टूर पैकेज बताकर लोगों से करता था ठगी. लॉकडाउन के समय ऑनलाइन लांच किए थे कई टूर पैकेज. बतौर एडवांस दस प्रतिशत खाते में कराया करता था ट्रांसफर.
ऑनलाइन आकर्षक टूर पैकेज लांच कर लोगों को ठगने वाले एक साइबर अपराधी को साइबर सेल ने किया गिरफ्तार.

आगरा. आगरा से ऑनलाइन आकर्षक टूर पैकेज लांच कर लोगों को ठगने वाले एक साइबर अपराधी को साइबर सेल ने गिरफ्तार किया है. उसने हॉलीडे के नाम से अपनी साइट बना रखी थी. लॉकडाउन में कई आकर्षित पैकेज लांच करके लोगों को अपना शिकार बनाया था. सभी पैकेज अनलॉक के समय भविष्य के लिए थे. सस्ते दामों पर आना-जाना, रुकना और खाने को पैकेज में शामिल किया गया था. मामले की दो पीड़ितों ने एसएसपी से शिकायत की थी. साइबर सेल ने इसी शिकायत पर जांच की तो आरोपी पकड़ा गया.

कोरोना काल में आगरा के 35 गांवों पर बाढ़ का खतरा, 3. 5 मीटर बढ़ा चंबल का स्तर

पुलिस ने बताया कि नगला पदी निवासी प्रदीप अग्रवाल पुत्र प्रेम बिहारी अग्रवाल को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया गया है. वह पहले एक टूर कंपनी में काम कर चुका है. उसे यह बात पता थी कि ऑनलाइन लोग किस तरह के पैकेज को पसंद करते हैं. इसके लिए उसने हॉलीडे के नाम पर अपनी फर्जी फर्म बनाई. ऑनलाइन उसका प्रचार किया. शातिर ने दूसरी कंपनियों से सस्ते पैकेज लांच किए थे. इसलिए लोग आसानी से उसके जाल में फंस रहे थे.

आगरा: जोंस मिल के बैनामे और निबंधन विभाग से निकलवाए आठ दस्तावेज प्रशासन को सौंपे

इस मामले में शाहगंज निवासी हरीश शर्मा और पंजाब के आशीष कुमार ने पुलिस से शिकायत की थी. दोनों ने बताया कि उन्होंने ऑनलाइन पैकेज सर्च किया और उस पर दिए नंबर पर संपर्क किया. फोन उठाने वाले ने अपना नाम सागर शर्मा बताया. उनसे पैकेज की कुछ रकम एडवांस में एक खाते में ट्रांसफर कराई गई. बाद में उस नंबर पर फोन उठना ही बंद हो गया. पुलिस ने बताया कि शातिर ने फर्जी कंपनी के नाम से बैंक में खाते खुलवाए थे. उसके निशाने पर दूसरे प्रदेश के लोग रहते थे ताकि शिकायत हो तो पुलिस कार्रवाई में ज्यादा दिलचस्पी नहीं दिखाए. एक व्यक्ति से ठगी अधिकतम दस से बीस हजार रुपये की होती थी. उसका मानना था कि इतनी छोटी ठगी में पुलिस ज्यादा माथा पच्ची नहीं करती है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें