यमुना एक्सप्रेसवे पर इलेक्ट्रिक गाड़ी से सफर अब और आसान, बनेंगे कई चार्जिंग स्टेशन

MRITYUNJAY CHAUDHARY, Last updated: Mon, 29th Nov 2021, 5:51 PM IST
  • आगरा से दिल्ली के लिए बन रहे यमुना एक्सप्रेसवे को इलेक्ट्रिक व्हीकल कॉरिडोर बनाने की योजना है. जिसपर ई-वाहनों की चार्जिंग के लिए जगह-जगह पर चार्जिंग स्टेशन बनाया जाएगा. वहीं इस योजना की शुरुआत दिसंबर महीने में हो सकती है.
यमुना एक्सप्रेसवे को ई-वाहन कॉरिडोर बनाने की तैयारी, जानें कब से शुरू होगी योजना

आगरा. आगरा को दिल्ली से सीधा जोड़ने वाली यमुना एक्सप्रेसवे को इलेक्ट्रिक व्हीकल कॉरिडोर बनाने की योजना है. जिसके तैयार होने के बाद इसपर किसी भी ई-वाहन को चार्जिंग दिक्क्त का सामना नहीं कना पड़ेगा. इसपर जगह-जगह चार्जिंग स्टेशन बनाए जाएंगे. वहीं यमुना एक्सप्रेसवे को ई-वाहन कॉरिडोर बनाने की कवायद भी तेज हो गई है. जिसको लेकर कहा जा है कि यमुना एक्सप्रेसवे को ई-वाहन कॉरिडोर बनाने की योजना अगले महीने दिसंबर से शुरू किया जा सकता है.

इलेक्ट्रिक वाहनों की बढ़ावा देने के लिए भी इस यमुना एक्सप्रेसवे को इलेक्ट्रिक व्हीकल कॉरिडोर बनाया जा रहा है. जिससे लोग अधिक से अधिक इलेक्रिक वहां की खरीद करें. इतना ही नहीं केंद्र सरकार इलेक्ट्रिक वाहनों को बढ़ावा देने के लिए सरकार की तरफ से इसपर सब्सिडी भी दिया जा रहा है. इतना ही नहीं केंद्रीय सड़क, परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी के मुताबिक देश के 69,000 पेट्रोल पंपों पर इलेक्ट्रिक व्हीकल चार्जिंग स्टेशन का निर्माण कराया जा रहा है.

पत्नी ने बिना तलाक देवर के साथ घर बसाया, पति ने शादी तोड़ने को रखी दो शर्तें

आगरा और ग्रेटर नोएडा के बीच 165 किमी की दूरी है. जिसके देखते हुए ग्रेटर नोएडा में प्राधिकरण शहर में 100 इलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग स्टेशन बनाया जाएगा. जिसे ग्रेटर नोएडा के बाजारों, चौराहों, मॉल, प्रमुख मार्गों, सरकारी दफ्तरों के आसपास बनाया जाएगा. वहीं पहला चार्जिंग स्टेशन अल्फा कॉमर्शियल बेल्ट में बनाया जाएगा. जिसे बनाने की पूरी तैयारी कर ली गई है. वहीं ग्रेटर नोएडा में चार्जिंग स्टेशन बनाने के लिए प्राधिकरण ने कन्वर्जेंस एनर्जी सर्विसेज लिमिटेड कंपनी के साथ करार किया है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें