आगरा: कोरोना की तीसरी लहर की आहट, दूसरे राज्यों से आने वाले लोगों की कराई जाएगी कोरोना जांच

Smart News Team, Last updated: Thu, 2nd Sep 2021, 9:03 AM IST
  • आगरा में कोरोना की तीसरी लहर की आहट देखने को मिली है. राज्य में कोरोना के मामले सामने आए जिसे लेकर प्रशासन सख्त हो गया है. 
आगरा: कोरोना की तीसरी लहर की आहट

आगरा: कोरोना की तीसरी लहर को लेकर लोगों में डर काफी पहले से देखने को मिल रहा है. धीरे-धीरे कोरोना के मामले देखने को मिल रहे हैं. यूपी के आगरा में कोरोना का खतरा देखने को मिल रहा है. दूसरे राज्यों से आने वाले लोगों की वजह से कोरोना के मामले देखने को मिल रहे हैं. केरल, महाराष्ट्र और पश्चिम बंगाल से आए यात्रियों की जांच कराने पर फोकस किया जा रहा है. इन राज्यों से आने वाले लोगों के परिजनों से भी कहा गया है कि वह भी लापरवाही न बरतें और कोरोना की जांच करा लें. वहीं संदिग्धों को प्रशासन द्वारा उनके घरों में क्वारंटाइन कराया जाएगा. इसे तीसरी लहर की आहट माना जा रहा है.

मंगलवार को पांच नए संक्रमित पाए गए है. स्वास्थ्य विभाग भी एक सितंबर से मामले बढ़ने की आशंका जता रहा था. एक दिन पहले से ही संक्रमित सामने आने लगे हैं. अगले 20 दिन बेहद अहम बताए जा रहे हैं. तीसरी लहर में बच्चों के लिए कोरोना संक्रमण काफी खतरनाक बताया जा रहा है. ताज नगरी में स्मारकों पर भी पर्यटकों की जांच जल्द शुरू कराई जाएगी. स्मारकों पर पिछले तीन दिनों से काफी भीड़ हो रही है. इनमें भारतीयों की ही संख्या सबसे ज्यादा है.

अब पैसा जमा करवाने साथ जाएगी पुलिस, किसी भी वक्त एक कॉल में आपके साथ

ऐसे में सभी पर्यटकों की जांच जिस तरह से होनी चाहिए, उस तरह से नहीं हो पा रही है. जिले के पांच अस्पतालों में पीडियाट्रिक वार्ड (पीकू) बनाए गए हैं. अस्पताल में 68 कोविड बेड तैयार किए गए हैं. इनमें से 40 बेड पीकू के लिए आरक्षित हैं। विभाग मानकर चल रहा था कि एक मई से संक्रमण बाहर आने लगेगा. इसे भी खतरे के रूप में लिया गया. इन सभी कारणों का परिणाम अब सामने आ रहा है. लोगों को ये हिदायत दी जा रही है कि कोरोना से बचने के लिए सोशल डिस्टेसिंग और मास्क लगाएं. हर एक या दो घंटे के बाद साबुन से हाथों को धोएं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें