महज 2 लाख दहेज के लिए बोल दिया तीन तलाक, पुलिस ने भी नहीं की आगरा की बेटी की मदद

Smart News Team, Last updated: 07/10/2020 05:43 PM IST
  • आगरा में एक मुस्लिम शख्स ने अपनी बीवी को 2 लाख रुपये दहेज के लिए तीन तलाक बोल दिया. पीड़िता की पुलिस में भी सुनवाई नहीं की गई.
आगरा में एक और बेटी तीन तलाक का शिकार

आगरा. गैरकानूनी होने के बावजूद ताजनगरी आगरा के एक युवक ने अपनी पत्नी तो दहेज की वजह से तीन तलाक दे दिया. पीड़िता ने पुलिस से इस बात की शिकायत की तो भी कोई कार्रवाई नहीं की गई. शादी के बाद से ही पीड़िता को ससुराल वाले दो लाख रुपये दहेज के लिए प्रताड़ित कर रहे थे जिसके बाद अब पति ने तीन तलाक दे दिया. साथ ही इस बात की शिकायत करने पर जान से मारने की धमकी भी दी.

मिली जानकारी के अनुसार, लॉकडाउन से ठीक पहले 19 मार्च 2020 को बिल्लौचपुरा, लोहामंडी की निवासी अंजुम का नाला मंटोला के निवासी इमरान के साथ निकाह हुआ था. निकाह के बाद से ही ससुराल में दहेज के लिए प्रताड़ित किया जाने लगा. निकाह के वक्त दहेज के रूप में दो लाख रुपए की मांग की गई थी जिसके बाद मायके से मिले सभी जेवरात भी सास ने रख लिए. इसके बाद से ही पीड़िता को मायके नहीं भेजा जाता और अगर भाई लेने आता है तो मना कर दिया जाता.

आगराः फर्जी पुलिस बनकर लोगों को लूटने वाली गैंग के 3 शातिर अरेस्ट, 1 लाख कैश बरामद

लॉकडाउन के दौरान 11 जून को पति इमरान ने सभी घर वालों को अपनी ससुराल के पास एक दरगाह पर बुलाया जहां उसने अपनी पत्नी को तीन तलाक बोल दिया. साथ ही शिकायत करने पर जान से मारने की धमकी दी. हालांकि, पीड़िता शिकायत के लिए लोहा मंडी थाना गई लेकिन पुलिस ने कुछ सुनवाई नहीं की. फिलहाल पीड़िता की ओर से लिखित शिकायत दी गई जिसमें ससुराल पक्ष के खिलाफ केस दर्ज करने का अनुरोध किया गया है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें