भूख से बेबस होकर आकर एथलीट पर कर दिया हमला, पुलिस से बोला- पहले खाना खिला दो

Smart News Team, Last updated: Sun, 30th Aug 2020, 10:08 PM IST
आगरा में एथलीट प्रमोद कुमार पर एक युवक ने हमला कर दिया. पुलिस ने युवक से हमला करने की वजह पूछी तो युवक ने कहा पहले रोटी दे दो.
एथलीट प्रमोद कुमार और हमला करने वाला युवक

आगरा. इंसान को भूख ना जाने क्या-क्या बना देती है. आगरा में कुछ ऐसा ही हुआ जहां भूख और बेबसी में आकर एक एथलीट पर इसलिए हमला कर दिया क्योंकि उसे लगा कि एथलीट के बैग में खाने का डिब्बा हो सकता है जो उसकी भूख मिटा देगा. जब आरोपी को पुलिस ने पकड़ लिया तो उसने पुलिसकर्मियों से भी खाना मांगा.

दरअसल इनर रिंग रोड पर रविवार सुबह एथलीट प्रमोद कुमार पर हमला हुआ लेकिन जब आरोपी ने हमले की वजह बताई तो उसे सुन कर पुलिस समेत सभी हैरान रह गए. वहीं एथलीट प्रमोद कुमार अपनी फुर्ती से खुद को बचाने में सफल रहे. इधर गिरफ्तार आरोपी से जब पुलिस ने हमले की वजह पूछा तो उसने बताया कि उसे रोटी चाहिए. वह कई दिनों से भूखा है और उसे कल छह दिन बाद एक रोटी मिली थी.

 युवक ने बताया कि एथलीट के पास बैग देखकर उसे लगा कि इसमें खाने का डिब्बा होगा इसलिए वह बैग मांग रहा था. आरोपी युवक ने पुलिस से कहा कि जहां भेजना है भेज दिजिए लेकिन पहले खाना खिला दिजिए.

आगरा: महिला सिपाही के साथ रेप मामले में परिजनों समेत लोको पायलट पर मुकदमा दर्ज

दरअसल एथलीट प्रमोद कुमार रविवार की सुबह इनर रिंग रोड पर दौड़ लगा रहे थे. प्रमोद के अनुसार वह कटारा से 21 किलोमीटर दूर थे तभी इनर रिंग रोड पर अचानक एक युवक उनके सामने आ गया और उन्हें बीच रास्ते रोक लिया. रोककर कहा कि अपना बैग दो. उन्होंने उससे कहा कि बैग में सिर्फ पानी की बोतल है. यह सुनकर युवक ने अपने बैग से एक बांक निकाल लिया और कहने लगा कि यहीं मार देगा. इस पर प्रमोद घबराकर मदद के लिए शोर मचाने लगे. 

आगरा: धार्मिक स्थल की प्रतिमाएं तोड़ेने पर बजरंग दल और विहिप का हंगामा

ऐसे में उनकी मदद के लिए इनर रिग रोड से गुजर रही कोई गाड़ी नहीं रुकी सिर्फ एक टेंपो ड्राइवर रुका. लेकिन युवक के हाथ में बांक देखकर टेंपो ड्राइवर भी घबरा गया. जैसे-तैसे एथलीट प्रमोद ने ड्राइवर की मदद से युवक को पकड़ा और ताजगंज थाने की तोरा पुलिस चौकी लेकर आए. पुलिस पूछताछ में आरोपी ने अपना नाम सुभाष बताया. 

उसने खुद को बिहार का निवासी बताया और कहा कि उसे रोटी चाहिए थी. वह कई दिनों से भूखा है. उसने हमला भी सिर्फ बैग के लिए किया क्योंकि उसे लगा कि बैग में डिब्बा होगा. युवक की बाते सुनकर वहां मौजूद पुलिसकर्मी भी खामोश रह गए. पुलिसकर्मीयों ने युवक के लिए सबसे पहले खाना मंगाया और पानी पिलाया. पुलिस ने बताया कि आरोपित के बारे में पुलिस छानबीन कर रही है. पुलिस पता लगा रही है कि यह असल में कहां का निवासी है और आगरा क्यों और कैसे आया. इसके अलावा यह कभी जेल गया है या नहीं यह भी पता लगाया जा रहा है. इन जानकारियों के मिलने के बाद ही आगे कोई कारवाई की जाएगी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें