आगरा: जोंस मिल के बैनामे और निबंधन विभाग से निकलवाए आठ दस्तावेज प्रशासन को सौंपे

Smart News Team, Last updated: Tue, 25th Aug 2020, 8:46 AM IST
  • आगरा की जोंस मिल के बैनामे और निबंधन विभाग से निकलवाए आठ दस्तावेज प्रशासन को सौंपे गए हैं. इस मामले में पुराने दस्तावेज निकलवाए जा रहे हैं. दस्तावेजों की खोजबीन जारी है.
आगरा: जोंस मिल के बैनामे और निबंधन विभाग से निकलवाए आठ दस्तावेज प्रशासन को सौंपे

आगरा. जोंस मिल से संबंधित जमीनों के आठ और दस्तावेजों का रिकॉर्ड निबंधन विभाग ने सोमवार को प्रशासन को भेजा है. अब तक निबंधन विभाग लीज डीड व बैनामों से संबंधित 28 दस्तावेज प्रशासन को सौंप चुका है. हालांकि वर्ष 1900 से 1920 तक के रिकॉर्ड ढूंढने में कर्मचारियों को काफी दिक्कतें आ रही हैं. उर्दू अनुवादक का भी सहयोग लिया है. अभी तक केवल चार पुराने दस्तावेज मिले हैं. यह दस्तावेज जोंस मिल प्रकरण की जांच में काफी अहम हैं.

जोंस मिल से संबंधित जमीनों के जो बैनामा, लीज डीड आदि हुई हैं, उनके दस्तावेज निबंधन विभाग से निकलवाए जा रहे हैं. इसमें वर्ष 1900 से 1920 तक का रिकॉर्ड एवं 23 खसरा संख्यां के अभिलेखों को खंगाला जा रहा है. सब रजिस्ट्रार पंचम अशोक कुमार के मुताबिक वर्ष खसरा संख्या 2086, 2087 व 2086 से संबंधित वर्ष 2014 व 2015 के आठ और बैनामों की सत्यप्रतिलिपि तैयार कर प्रशासन को भिजवाई जा रही है. पुराना रिकॉर्ड मिलने में अभी दिक्कत आ रही है. हालांकि कर्मचारी लगे हुए हैं. उर्दू अनुवादक का भी सहयोग लिया गया है.

आगरा के जोंस मिल धमाके की धमक लखनऊ तक पहुंची, ATS और IB ने भी शुरू की जांच

दरअसल इस पूरे प्रकरण की जांच हो रही है कि जमीन किसकी है किसकी नहीं. किसका कब्जा है. किसे खाली करानी थी. हाल ही में वहां एक बम धमाका भी हुआ जिसमें खुफिया एजेंसियां और एटीएस भी सक्रिय हो गई. पुलिस बम धमाके मामले की जांच कर रही है. जमीन विवाद के साथ ही इसमें कई और मामले जुड़ते जा रहे हैं.

आगरा: BJP नेता चला रहा था लुटेरों का गैंग, दो बड़ी डकैती का था प्लान, 9 अरेस्ट

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें