आगरा: लाखन गैंग को कराया जा रहा रजिस्टर, खुली 3 बदमाशों सहित 13 की हिस्ट्रीशीट

Smart News Team, Last updated: 17/09/2020 10:15 AM IST
  • आगरा में पुलिस लाखन गैंग को रजिस्टर करवा रही है. साथ ही उन्होंने 3 बदमाशों सहित 13 अपराधियों की हिस्ट्रीशीट खोली है. इन अपराधियों पर कार्रवाई करने के लिए और निगरानी रखने के लिए पुलिस ने ये कदम उठाया है.   
आगरा: लाखन गैंग को कराया जा रहा रजिस्टर, खुली 3 बदमाशों सहित 13 की हिस्ट्रीशीट

आगरा. आगरा के मलपुरा के गांव बमरौली अहीर के कुख्यात लाखन यादव गैंग को रजिस्चर करवाया जा रहा है. पुलिस ने इस गैंग के तीन बदमाशों सहित कुल 13 अपराधियों की हिस्ट्रीशीट खोली है. दरअसल, इन अपराधियों की हिस्ट्रीशीट खोल कर इन पर जेल से रिहाई के बाद निगरानी रखी जाएगी. इनके रिहा होने के बाद पुलिस वाले इनके घरों पर लगातार जाएंगे. इन पर निगरानी रखी जाएगी कि ये क्या कर रहे हैं? किसी अपराध से जुड़ने को लेकर निगरानी होगी. 

ये हिस्ट्रीशीट इनके मरने के बाद ही बंद की जाएगी. हालांकि निगरानी का समय तय नहीं है इसे पुलिस अपने अनुसार बंद कर सकती है. लगभग तीन महीने पहले हुए हत्याकांड में आरोपियों की हिस्ट्रीशीट खोली गई है. इनकी हिस्ट्रीशीट मलपुरा थाने में खोली गई है. साथ ही अपहरण और हत्या में शामिल गैलाना, सिकंदरा निवासी लालू उर्फ मोहित सिकरवार व जॉनी उर्फ सुबोध सिकरवार, पेशेवर चोर भैंरो गली, पृथ्वीनाथ शाहगंज निवासी भूरा उर्फ नाजिम व राजेश, चेन स्नेचर सोहित निवासी छत्ता, कौलारा, डौकी निवासी प्रहलाद व राहुल, चोरी और धोखाधड़ी में माहिर, शराब तस्करी में परमान निवासी फतेहपुरसीकरी, शाहगंज के संदीप व गब्बर की भी हिस्ट्रीशीट खुली है.

आगरा: सट्टेबाज रिंकू सरदार पर कार्रवाई, दो करोड़ की संपत्ति जब्त

गौरतलब हो की 22 जून को मलपुरा क्षेत्र में प्रोपर्टी डीलर राजेश उर्फ राजे की गोलियों से भूनकर हत्या की गई थी. इस हत्याकांड के पीछे लाखन यादव के भाई संतोष यादव और साथियों के नाम आए थे. इसी हत्याकांड में शामिल संतोष यादव, जितेंद्र उर्फ जीते व अशोक की हिस्ट्रीशीट खोली गई है. आधा-आध दर्जन से अधिक मुकदमे दर्ज होने के बावजूद अभी तक ये बदमाश मलपुरा थाने के हिस्ट्रीशीटर नहीं थे. 

देवर ने बनाया हवस का शिकार, पति ने बेरहमी से पीटा और बोल दिया तीन तलाक

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें