आगरा में नहीं कोरोना का डर, सड़क पर बेफिक्र घूम रहे लोग, खुली हैं ये दुकानें

Smart News Team, Last updated: Mon, 17th May 2021, 5:29 PM IST
  • आगरा में कोरोना कर्फ्यू लागू होने के दौरान सभी बाजार बंद हैं, केवल जरूरी वस्तुओं के लिए बाहर जाने पर छूट दी गई है, लेकिन यहां पर खुलेआम छूट का दुरुपयोग होते देखा जा सकता है.
आगरा में नहीं कोरोना का डर, सड़क पर बेफिक्र घूम रहे लोग, खुली हैं ये दुकानें

आगरा। उत्तर प्रदेश के आगरा शहर में कोरोना कर्फ्यू लागू होने के दौरान ही सड़कों पर लोगों की आवाजाही फिर से बढ़ गई है. जहां युवा धड़ल्ले से सड़कों पर बेवजह घूम रहे हैं, वहीं गली मुहल्लों में पान मसाले और गुटखे की दुकानें सामान्य तौर पर खुली हुई हैं. इन इलाकों में पुलिस की कार्रवाई न के बराबर है. गौरतलब है कि 30 अप्रैल की रात से शहर में कर्फ्यू लागू किया गया है. सभी बाजार बंद हैं, केवल जरूरी वस्तुओं के लिए बाहर जाने पर छूट दी गई है, लेकिन यहां पर खुलेआम छूट का दुरुपयोग होते देखा जा सकता है.

शहर के लोहामंडी में स्थित किराना बाजार में सुबह शाम लोगों की भारी भीड़ उमड़ रही है. कर्फ्यू के दौरान सब्जी मंडी में लागू होने वाले नियमों को तार तार किया जा रहा है. रविवार को दोपहर में शाहगंज-बोदला रोड पर प्रकाश नगर, राम नगर पुलिया और प्रेम नगर इलाके में काफी सारे युवाओं को टोलियों में सड़कों पर घूमते देखा गया. वहीं दूसरी तरफ शाहगंज और रुई की मंडी में किराने की दुकानों पर भी भारी भीड़ हो रही है. अधिकतर दुकानदारों ने ग्राहकों के खड़े होने के लिए गोल घेरे भी नहीं बनाए हैं. इसके अलावा बोदला सराय के इलाके में गुटका, पान मसाले की दुकानें भी खुल गईं हैं.

राजस्थान पुलिस ने UP के 5 पुलिसकर्मियों को थाने में बैठाया, फिर 24 घंटे बाद छोड़ा, जानें पूरा मामला

शहर के नगला पदी, कमला नगर और सुल्तानगंज पुलिया पर भी लोग पैदल सड़कों पर बेवजह घूमते दिख रहे हैं. गली-मुहल्लों और घनी बस्तियों में दुकानें सुबह से शाम तक खुल रही हैं. शाहगंज क्षेत्र के हॉटस्पॉट होने के बावजूद यहां एक बजे तक प्रतिबंध का पालन नहीं किया जा रहा है. युवाओं के घरों से बाहर आवाजाही करने और बुजुर्गों के संपर्क में आने से वृद्ध लोग बीमार पड़ रहे हैं जिससे कोविड फैलने का खतरा और ज्यादा बढ़ रहा है.

बेवजह स्टेरॉयड लेना बना कोरोना मरीजों के लिए मुसीबत, डायबिटीज में बेहद खतरनाक

एडीएम सिटी डॉ. प्रभाकांत अवस्थी ने बताया कि थाना प्रभारियों की जिम्मेदारी है कि वह अपने क्षेत्रों में कोरोना कर्फ्यू का पालन कराएं. एसपी सिटी से बात कर बाजारों में सख्ती और बढ़ाई जाएगी. इसके अलावा एसएसपी मुनिराज जी ने कहा कि कोरोना कर्फ्यू का पालन कराने के लिए थाना पुलिस को निर्देशित किया गया है. पुलिस सड़कों पर चेकिंग करती है. दुकानों पर भी मास्क और उचित दूरी के पालन को लेकर जांच की जाती है. जहां नियमों का उल्लंघन होता है वहां कार्रवाई की जाती है. एसएसपी ने आगे कहा कि रोजाना बिना मास्क 2000 से अधिक लोगों के चालान हो रहे हैं. रविवार शाम तक भी 1780 लोगों का चालान किया गया है. अगर कहीं कोरोना कर्फ्यू का पालन नहीं कराया जा रहा है तो संबंधित थाना प्रभारी से स्पष्टीकरण मांगा जाएगा. सोमवार को सघन चेकिंग की जाएगी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें