आगरा: चचेरे भाई-बहन को हो गया प्यार, परिवार नहीं माना तो ट्रेन से कटकर दी जान

Smart News Team, Last updated: 12/06/2020 08:13 PM IST
  • आगरा में एक प्रेमी जोड़े ने ट्रेन से कटकर अपनी जान दे दी। दोनों रिश्ते में भाई-बहन लगते थे। परिवार दोनों के रिश्ते से खुश नहीं था। 
रिश्ते में थे भाई-बहन, परिवार वाले नहीं मानें तो दे दी जान ( प्रतीकात्मक फोटो)

आगरा. प्रेम की नगरी ताज नगरी में एक प्रेमी जोड़े के शव कटे हुए रेलवे लाइन पर पड़े हुए मिले। दोनों के सिर धड़ से अलग हो गए थे। मृतक रिश्ते में चचेरे भाई-बहन बताए जा रहे हैं। पुलिस का मानना है कि दोनों ने रेलवे ट्रैक पर जाकर आत्महत्या की। दोनों मतृकों के परिजन इस संबंध में चुप्पी साधे बैठे हैं और पुलिस से ज्यादा बात नहीं कर रहे।

मिली जानकारी के अनुसार, घटना सुबह करीब पौने चार बजे की है। सीओ सदर विकास जायसवाल के अनुसार, रेलवे कंट्रोल से सूचना मिली कि आगरा कैंट से आगरा फोर्ट जा रही मालगाड़ी के चपेट में आने से कोई कट गया। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची। घटनास्थल पर युवक-युवती के शव मिले। रेलवे लाइन काजीपाड़ा इलाके से ही गुजर रही है। लोगों के घरों और रेलवे लाइन में ज्यादा दूरी नहीं है।

पुलिस ने स्थानीय लोगों को जगाया। पुलिस पूछना चाहती थी कि शायद किसी ने कुछ देखा हो। या कोई इनकी पहचान कर ले। सुबह करीब साढ़े पांच बजे युवक की पहचान टीला नंदराम निवासी 22 वर्षीय राहुल पुत्र शीतल प्रसाद के रूप में हुई। युवती उसके बराबर वाले घर में रहने वाली 19 वर्षीय शिवानी पुत्री मुरारी थी। पहचान होते ही दोनों के परिजनों को सूचना दे दी गई।

दोनों के परिजन मौके पर पहुंच गए। पुलिस ने जब उनसे सवाल-जवाब किए तो चुप्पी साध गए। पुलिस ने जब मोहल्ले में पूछताछ कि तो पता चला राहुल और शिवानी दोनों एक ही खानदान से थे। रिश्ते में भाई-बहन लगते थे। करीब एक साल से दोनों के बीच प्रेम प्रसंग था। राहुल जूता कारीगर था। खानदानी होने के नाते दोनों की शादी नहीं हो सकी। दोनों के परिजनों को उनके संबंध की जानकारी थी और इस रिश्ते के सख्त खिलाफ थे। यही वजह थी कि दोनों ने ट्रेन के आगे लेटकर आत्महत्या कर ली।

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें