आगरा

सुसाइड नोट में लिखा- लॉकडाउन में सारे पैसे खर्च, आगे क्या होगा… फिर लगाई फांसी

Smart News Team, Last updated: 22/06/2020 12:58 PM IST
  • कोरोना लॉकडाउन की वजह से आर्थिक संकट में जूझ रहे आगरा के एक शख्स ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।
मृतक रघुवीर सिंह पिछले कई दिनों से आर्थिक संकट से जूझ रहे थे।

आगरा. कोरोना लॉकडाउन में आई आर्थिक तंगी ने उत्तर प्रदेश की ताजनगरी आगरा में एक और शख्स की जान ले ली। मृतक के सिर पर भारी कर्जा था जो वह चुकाने में सक्षम नहीं था। आखिरकार उसने परेशान होकर फांसी के रास्ते मौत को गले लगा लिया। मृतक के पास से एक सुसाइड नोट भी मिला जिसमें उसने अपनी मौत का कारण भी बताया। फिलहाल पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है।

मिली जानकारी के अनुसार, आगरा के थाना जगदीशपुरा निवासी रघुवीर सिंह कोरोना लॉकडाउन की वजह से आर्थिक संकट से जूझ रहे थे। जब जीविका चलाने के लिए पैसे नहीं बचे तो उन्होंने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। रघुवीर सिंह की मौत के बाद इलाके में कोहराम मच गया। मरने से पहले रघुवीर सिंह ने सुसाइड नोट भी लिखा जिसमें मौत का जिम्मेदार सिर पर चढ़े कर्जे को बताया।

सुसाइड नोट में रघुवीर सिंह ने लिखा कि नौकरी न लगने के कारण पूरा जीवन आर्थिक तंगी से गुजरा। जो 25 हजार रुपए कैश उनके पास था वह लॉकडाउन के दौरान घर बैठकर खाने में खर्च हो गया। अब आगे क्या होगा, काम भी बंद है। किराया-खर्चा कहां से होगा? इसी परेशानी ( आर्थिक तंगी ) के कारण मैं अपनी जीवनलीला समाप्त कर रहा हूं।

 

मृतक रघुबीर सिंह का सुसाइड नोट 

अन्य खबरें