नशे की गिरफ्त में ताजनगरी, नशीली दवा की सबसे बड़ी मंडी, कई राज्यों में कारोबार

Smart News Team, Last updated: 17/07/2020 12:55 PM IST
  • ताजनगरी आगरा नशीली दवा की सबसे बड़ी मंडी बनती जा रही है। यहां से कई राज्यों में नशे के कारोबार का नेटवर्क फैला है।
आगरा में फल फूल रहा नशे का कारोबार

आगरा. ताजनगरी आगरा नशे की सबसे बड़ी मंडी बनती जा रही है। यहां से ड्रग्स की कई राज्यों में सप्लाई की जाती है। बीते मंगलवार को पंजाब से आई नारकोटिक्स विभाग की टीम ने जिले से दो नशे के कारोबारियों को दबोचा और साथ ले गई। यह दोनों भाई बताए जा रहे हैं। दोनों ने पूछताछ में तीन अन्य लोगों का नाम लिया। उन्हें भी पंजाब बुला लिया गया है।

पिछले कुछ दिनों में आगरा के नशे के कारोबारियों पर पंजाब पहले कई राज्यों की टीम धावा बोल चुकी हैं। क्योंकि धीरे-धीरे आगरा में नशे का कारोबार अपना पांव पसारता जा रहा है। अरबों की दवा को जब्त की जा चुकी है।

आगरा में कोरोना के एक्टिव केस बढ़ा रहे परेशानी, डेढ़ माह में ढाई गुना हुई संख्या

नशे की दवाइयों की आगरा बड़ी मंडी है। ताजनगरी से नशे की दवाइयों की तस्करी दिल्ली, हरियाणा, पंजाब, राजस्थान, मध्य प्रदेश, बिहार में की जाती हैं। वहीं यूपी के ही बुलंदशहर और गाजियाबाद आगरा से भेज गईं नशे की दवाइयां पकड़ी जा चुकी हैं। पिछले साल 5 राज्यों की पुलिस और नारकोटिक्स विभाग आगरा में छापेमारी कर चुके हैं। ग्वालियर की नारकोटिक्स टीम ने नवंबर 2019 में भी छापा मारा था। जिस दौरान गोदाम और सप्लायर गिरफ्तार किए गए थे।

पुलिस ने बिहार में पूरा गिरोह पकड़ा जो खांसी के सीरप बेचता था। ताजनगरी से यह माल बहुतायत में भेजा जाता था। दिल्ली पुलिस ने भी नशीले इंजेक्शन की खेप पकड़ी थी। इस केस में आगरा से दो लोग पकड़े गए थे। दरअसल आगरा से कई राज्यों की सीमाएं लगी हैं इसलिए तस्करों की निगाहें यहां पर टिकी हैं।

इश्कवालों के लिए जानलेवा मोहब्बत का शहर आगरा, खूनी प्यार ने ली सबसे ज्यादा जान

आगरा राजस्थान, मध्य प्रदेश, हरियाणा, दिल्ली जैसे चार राज्यों के बेहद करीब है। और यहां उत्तर भारत की सबसे बड़ी दवा मंडी भी है। इसी को देखते हुए यहीं पर गोदाम स्थापित कर लिए गए जिनमें आम के साथ नशे की दवाइयां भी चोरी से रखी जाती हैं। देश के दूसरे बड़े बाजारों से भी यहां भारी मात्रा में दवाइयां आती हैं।

अन्य खबरें