आगरा मेट्रो निर्माण जामा मस्जिद से ताज पूर्वी गेट के 6 किमी ट्रैक पर होगा शुरू

Smart News Team, Last updated: 25/07/2020 10:35 AM IST
  • सुप्रीम कोर्ट से आगरा मेट्रो निर्माण को मंजूरी मिलने के बाद अब इसका कार्य भी जल्द शुरू किया जाना है. सबसे पहले 6 किमी ट्रैक पर काम होगा. ये जामा मस्जिद से ताज पूर्वी गेट सेक्शन पर शुरू होगा. 
आगरा मेट्रो निर्माण जामा मस्जिद से ताज पूर्वी गेट के 6 किमी ट्रैक पर होगा शुरू

आगरा मेट्रो रेल प्रोजेक्ट को सुप्रीम कोर्ट से मंजूरी मिल गई है. जल्द ही इसका निर्माण कार्य शुरू किया जाएगा. इसके लिए यूपी मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (यूपीएमआरसी) ने कार्यवाही शुरू कर दी है. बताया जा रहा है कि इस परियोजना के तहत सबसे पहले जामा मस्जिद और ताजमहल पूर्वी गेट तक करीब छह किलोमीटर के ट्रैक पर काम शुरू किया जाएगा.

SC से आगरा मेट्रो को मंजूरी, दो फेज में होंगे रेल प्रोजेक्ट के सिविल वर्क टेंडर

कॉरपोरेशन ने इस छह किमी के ट्रैक का यूटिलिटी सर्वे पहले ही पूरा कर लिया है. वहीं इंटीग्रेटेड टेंडरिंग के जरिये मेट्रो परियोजना के लिए 29 रॉलिंग स्टॉक/मेट्रो ट्रेन (87 कार) और सिग्नलिंग सिस्टम्स का टेंडर हो चुका है. इसके लिए सिविल वर्क का टेंडर किया जा रहा है. निर्माण के इस पहले सेक्शन में छह स्टेशन होंगे. इनमें तीन स्टेशन ताज पूर्वी गेट, बसई और फतेहाबाद रोड एलिवेटिड होंगे और तीन स्टेशन ताजमहल, आगरा फोर्ट और जामा मस्जिद अंडरग्राउंड बनाए जाएंगे.

आगरा मेट्रो का सपना है 13 साल पुराना, अभी शुरू होने में लगेगा और समय

यूपीएमआरसी के प्रबंध निदेशक कुमार केशव ने कहा कि, सीईसी की सिफारिशों का पूरी तरह पालन किया जाएगा. कॉरपोरेशन की कोशिश है कि जल्द ही मेट्रो निर्माण काम शुरू हो जाए. इसके अलावा यूपीएमआरसी का कहना है कि मेट्रो रेल परियोजना को ईको फ्रेंडली बनाना है. इसके तहत फतेहाबाद तहसील में चयनित 21 हेक्टेयर में (गैर वानिकी क्षेत्र) 18230 पौधे लगाकर दो फुट ऊंची बाड़ बनाई जाएगी जिसका खर्चा यूपीएमआरसी उठाएगा.

आगरा मेट्रो को सुप्रीम कोर्ट से मंजूरी, ताजमहल के नीचे से गुजरेगी ट्रेन

बता दें कि कोर्ट ने कहा था कि प्रोजेक्ट के दौरान जितने भी पेड़ काटे जाएंगे उनके 10 गुना ज्यादा लगाने होंगे. यह प्रोजेक्ट 10830 करोड़ रुपये की लागत से तैयार होगा जिसमें शहर के अंदर 2 कारीडीर बनाए जाएंगे. वहीं दोनों कॉरिडोर में 30 किमी लंबा ट्रैक होगा और 30 स्टेशन होंगे. इन स्टेशनों में 22 एलीवेटिड और आठ स्टेशन अंडरग्राउंड होंगे.

अन्य खबरें