आगरा: नगर निगम ने छापा मारकर जब्त की 16 कुंतल पॉलिथीन, लगाया भारी जुर्माना

Smart News Team, Last updated: 20/07/2020 10:27 PM IST
  • नगर निगम ने जीवनी मंडी के जाटनी का बाग इलाके में छापेमारी की. कारोबारियों के पास 16 कुंतल पॉलिथीन और प्लास्टिक बरामद हुआ जिसे जब्त कर लिया गया है. सभी आरोपियों पर जुर्माना लगाया गया है.
आगरा में निगम का छापा

 आगरा में पॉलिथीन के इस्तेमाल पर प्रतिबंध के साथ-साथ जुर्माने का प्रावधान है. हालांकि फिर भी लोग इसका इस्तेमाल करते हैं. सोमवार को नगर निगम की टीम ने बड़ी कार्रवाई करते हुए छापेमारी की और जीवनी मंडी के जाटनी का बाग इलाके से करीब 16 कुंतल पॉलिथीन जब्त की. जाटनी का बाग में पॉलिथीन का भंडारण करने वालों पर नगर निगम ने लगभग 75 हजार रुपये का जुर्माना लगाया है.

दरअसल नगर निगम की टीम प्लास्टिक, पॉलिथीन और थर्माकोल बैन होने के बाद से ही इनके खिलाफ लगातार कार्रवाई करती रही है. कोरोना काल में लॉकडाउन के चलते कुछ महीनों से कार्रवाई में कमी आ गई थी. पॉलिथीन के खिलाफ चलाए जाने वाले अभियान लगभग बंद थे. हालांकि इस दौरान भी कभी-कभी छोटी मोटी कार्रवाई की जा रही थी. अभियान और कार्रवाई में कमी आती देख लोगों और दुकानदारों ने एक बार फिर पॉलिथीन का इस्तेमाल शुरू कर दिया था.

गोदाम खाली कराने को हुआ जोंस मिल बम धमाका, स्वतंत्रता सेनानी का बेटा हिरासत में

बताया गया कि सहायक नगर आयुक्त अनुपम शुक्ला को जानकारी मिली कि जीवनी मंडी के जाटनी का बाग में लोगों ने भारी मात्रा में पॉलिथीन और प्लास्टिक का भंडारण किया हुआ है. सूचना मिलने पर नगर निगम की टीम के साथ सहायक नगर आयुक्त ने इलाके में छापेमारी की. टीम के साथ टास्क फोर्स प्रभारी कर्नल (रिटा.) एके सिंह, एसएफआई लकी शर्मा, राजस्व निरीक्षक वैभव यादव रहे.

छापे में लगभग 16 कुंतल पॉलिथीन और प्लास्टिक बरामद की गई. ये रवि शर्मा, अरुण और रोहित गर्ग के यहां से बरामद हुई. सभी पॉलिथीन और प्लास्टिक को नगर निगम जब्त कर लिया और आरोपियों पर लगभग 75 हजार रुपये का जुर्माना लगाया. छापेमारी के बाद सहायक नगर आयुक्त ने एक बयान में कहा कि नगर निगम ने अभियान धीमा नहीं किया था बल्कि वो किसी बड़े कारोबारी के खिलाफ कार्रवाई करने पर विचार कर रहे थे. नगर निगम ने कहा कि यदि कारोबारी शहर में पॉलिथीन नहीं मगाएंगे तो आम जनता में इसका प्रयोग बंद हो जाएगा.

अन्य खबरें