आगरा नगर निगम में 5000 की सैलेरी पर काम करने वाला पूर्व कर्मचारी बना करोड़पति! जानें मामला

MRITYUNJAY CHAUDHARY, Last updated: Thu, 3rd Mar 2022, 8:18 PM IST
  • आगरा नगर निगम में काम 5 हजार सैलेरी पर काम करने वाला पूर्व कर्मचारी 238 करोड़ का मालिक निकला. दरअसल निगम के कर्मचारी के ऊपर भ्रष्टाचार का आरोप लगा है. वहीं उसपर आरोप है कि ये संपत्ति निगम में भ्रष्टाचार करके बनाई है. 
आगरा नगर निगम में 5000 की सैलेरी पर काम करने वाला पूर्व कर्मचारी बना करोड़पति! जानें मामला

आगरा. आगरा नगर निगम के एक पूर्व आउटसोर्सिंग कर्मचारी के ऊपर भ्रस्टाचार का आरोप लगा है. दरअसल यह कर्मचारी 5 हजर रुपए प्रतिमाह सैलेरी पर नियुक्त हुआ था. जिसकी आज की तारीख में उसकी संपत्ति 238 करोड़ हो गई है. निगम के कर्मचारी के खिलाफ सपोर्ट इंडिया सोसायटी के अध्यक्ष व आगरा के अधिवक्ता सुरेश चंद सोनी भ्रष्टाचार का आरोप लगाया है. वहीं उनका कहना है कि राकेश बंसल करीब 2008 में नगर निगम में आउटसोर्सिंग कर्मचारी के रूप में लगा था. जिसने अब तक करोड़ों की संपत्ति अर्जित कर लिया है.

सुरेंद्र सोनी ने आगे बताया कि नगर निगम के आउटसोर्सिंग कर्मचारी राकेश बंसल ने करोड़ों कई संपत्ति अर्जित कर ली है. जिसके खिलाफ कई बार शिकायतें भी कई गई है, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं कई गई. निगम के इस कर्मचारी की सेटिंग ऐसी है कि वह अपने खिलाफ कार्रवाई को आगे नहीं बढ़ने देता है. साथ ही बताया कि उक्त कर्मचारी के पास कई लग्जरी गाड़ियां भी है. फिलहाल उक्त कर्मचारी के खिलाफ लगातार भ्रष्टाचार के आरोप लगने पर उसे पद से हटा दिया गया है.

शाहजहां के 367वां उर्स के दौरान ताजमहल में लगे 'पाकिस्तान समर्थन' के नारे, आरोपी गिरफ्तार

अधिवक्ता ने बताया कि राकेश बंसल को हटाते समय उसकी तनख्वाह 19 हजार रुपए थी. इसके बावजूद उसने भ्रष्टाचार करते हुए 238 करोड़ रुपए की चल और अचल सम्पत्तियां बनाई है. उसके पद दस से अधिक प्लाट, नॉएडा मॉल, तीन लग्जरी गाड़ियां और रायफल समेत कई अन्य संपत्तियां है. बताया जा रहा है कि आरोपी ने पार्किंग और विज्ञापन के ठेके अपने चहेतों को दिलवाएं. जिसके एवज में उसने भरी कमीशन लिया. इससे राकेश बंसल ने करोड़ों रुपया कमाया.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें