आगरा

हरियाणा में भेष बदलकर 18 साल से छिपा था आगरा का गैंगस्टर, पुलिस ने धर दबोचा

Smart News Team, Last updated: 19/07/2020 11:46 AM IST
  • आगरा में पुलिस ने एक ऐसे गैंग्स्टर को पकड़ा है जो पिछले 18 साल से भेष बदलकर हरियाणा में छिपा बैठा था। सिकंदरा थाना क्षेत्र का एक गैंगस्टर 18 साल से हरियाणा में भेष बदल कर रह रहा था।
हरियाणा में भेष बदलकर 18 साल से छिपा था गैंगस्टर

आगरा में पुलिस ने एक ऐसे गैंग्स्टर को पकड़ा है जो पिछले 18 साल से भेष बदलकर हरियाणा में छिपा बैठा था। सिकंदरा थाना क्षेत्र का एक गैंगस्टर 18 साल से हरियाणा में भेष बदल कर रह रहा था। पुलिस को तभी से उसकी तलाश थी। उसके सिर पर 15 हजार रुपये का इनाम भी घोषित था। थाना पुलिस की टीम ने आरोपित को शनिवार को गिरफ्तार करके जेल भेजा है।

आगरा का हिस्ट्रीशीटर मोनू यादव…पुलिस के लिए सिर्फ नाम ही काफी, ऐसा था उसका रौब

सिकंदरा थाना प्रभारी अरविंद कुमार ने बताया कि थाना क्षेत्र में वर्ष 2002 में एक ट्रक लूट की घटना हुई थी। मेवात के गैंग ने चालक और क्लीनर को मारपीट करके ट्रक से फेंक दिया था। पुलिस ने घटना में शामिल कई बदमाशों को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया था। जाकिर उर्फ पहलवान निवासी गंगवारी थाना पुन्हाना जिला नूह हरियाणा वांछित चल रहा था। जाकिर ने इसके बाद भी कई घटनाओं को अंजाम दिया। वह अपना भेष बदलकर नूह में दूसरे स्थानों पर रहने लगा। पुलिस ने कई बार इलाके दबिश दी, लेकिन बैरंग रहे।

कानपुर कांड असर: SP सरकार में बोला करती थी तूती,थाने पर पीता था चाय, किया सरेंडर

थाना प्रभारी सिकंदरा अरविंद, क्रिमिनल इंवेस्टीगेशन विंग प्रभारी कमलेश सिंह और एसजोअी प्रभारी कुलदीप दीक्षित को शातिर लुटेरे के नूह में ही हुलिया बदलकर रहने की जानकारी मिली। टीमों ने वहां तीन दिन डेरा डाले रखा। लुटेरे जाकिर की पहचान के बाद उसकी रेकी शुरू कर दी। इस बीच शातिर अपने किसी परिचित से मिलने आगरा आ गया। टीम ने सिकंदरा में भावना एस्टेट के पास से दबोच लिया।

अन्य खबरें