आगरा

फर्जी शिक्षकों पर यूपी सरकार सख्त, आगरा के 171 टीचरों पर जल्द होगी कार्रवाई

Smart News Team, Last updated: 30/07/2020 10:18 PM IST
  • आगरा के 171 शिक्षकों पर कानूनी कार्रवाई हो सकती है. 195 फर्जी शिक्षकों में से 24 को पहले ही निलंबित किया जा चुका है.
फर्जी शिक्षकों पर सरकार ने कड़ा रुख अपना लिया है.

आगरा के डॉ. भीमराव आंबेडकर विश्वविद्यालय के कार्य परिषद की जांच रिपोर्ट पर मुहर लगने का इंतजार किया जा रहा है. इसके होते ही एसआइटी सूची में शामिल 171 फर्जी शिक्षकों पर कानूनी कार्यवाही चल सकती है. पहली सूची में शामिल 24 शिक्षकों की ही तरह इनकी भी सेवाएं जल्द रद्द की जा सकती हैं. 

बीएसए राजीव कुमार ने कहा कि विश्वविद्यालय परिषद से मुहर लगी हुई फर्जी अभ्यार्थियों की सूची मिलने का इंतजार है. इसके बाद सख्त कदम उठाया जाएगा. विभाग को 249 अभ्यार्थियों की सूची मिली थी. जिसमें से 195 को फर्जी पाया गया. 24 अभ्यार्थियों को एसआईटी ने पहले ही निकाल दिया था. वहीं 171 बचे शिक्षकों पर सरकार ने सख्त कार्रवाई करने का फैसला लिया है. 

दिनदहाड़े कारीगरों से 14.5 किलो चांदी लूटी, पुलिस को कारीगर चाचा-भतीजे पर ही शक

विभाग 171 शिक्षकों के नामों को पहले स्क्रूटनी किया जाएगा. वहीं कार्य परिषद की मुहर लगते ही इन्हें सेवाओं से निलंबित किया जा सकता है.एसआईटी को 7 नए फर्जीवाड़े के मामले मिले हैं. जिनकी जांच होना अभी बाकी है. हाल ही में एसआईटी को 29 नामों की सूची मिली थी, जिसे मानव संपदा पोर्टल के द्वारा चिन्हित किया गया था. जांच में इन सात नामों को नई और पुरानी सूची से वेरिफाई करने के बाद कार्रवाई की जाएगी.  

सरकार का पैसा आंख मूंदकर उड़ा रहे अफसर, सफाई कर्मचारी कम गाड़ियां ज्यादा

जानकारी के लिए बता दें, उत्तर प्रदेश में अनामिका मामले के बाद फर्जी शिक्षकों पर नकेल कसी गई तो 1427 लोगों को पकड़ा गया था. इसके बाद से अबतक 900 से अधिक शिक्षकों की सेवा को समाप्त किया जा चुका है. फर्जी शिक्षकों पर भारी जुर्माना लगाकर उन्हें सेवा से निलंबित किया जाएगा.

अन्य खबरें