कोख के सौदागर: जब सरगना नीलम के खाते में लाखों का लेन-देन देख पुलिस रह गई दंग

Smart News Team, Last updated: 08/07/2020 10:34 AM IST
  • कोख के सौदागर गैंग की सरगना नीलम ने सरोगेसी के धंधे से इतना धन कमाया है कि पुलिस जब खंगाल रही है तो उसके होश उड़ जा रहे हैं।
कोख के सौदागर गैंग की सरगना नीलम।

कोख के सौदागर गैंग की सरगना नीलम ने सरोगेसी के धंधे से इतना धन कमाया है कि पुलिस जब खंगाल रही है तो उसके होश उड़ जा रहे हैं। पुलिस जांच में नीलम के अकाउंट से लेन-देन के जो डिटेल सामने आए हैं, वह काफी हैरान करने वाला है। पुलिस को अभी तक उसके सेविंग अकाउंट की दो साल की डिटेल मिली है, जिनमें 50 लाख रुपये के लेनदेन का रिकॉर्ड है। पुलिस ने उसके इसी खाते की दो साल पहले की और चालू खाते की दो साल की डिटेल मांगी है। खाते में कहां से कितनी रकम आई और किसको कितनी रकम दी गई, खंगालने पर इससे बहुत कुछ पता चल जाएगा और कोख के सौदागरों के नेटवर्क को ध्वस्त किया जा सकता है।

कोख की सौदागर नीलम ने रिमांड पर उगले कई अहम राज, मिले नेपाल पहुंचने के सुराग

पुलिस की मानें तो इस धंधे से जुड़े लोगों ने फर्जी आईडी पर खाते नहीं खुलवाए होंगे। अगर बैंक डिटेल को खंगाला जाए तो पुलिस बैंक ट्रांजेक्शन से ही कई लोगों तक पहुंच सकती है। बता दें कि 19 जून को फरीदाबाद के सेक्टर 31 निवासी नीलम और रूबी सहित पांच लोगों को आगरा पुलिस ने गिरफ्तार किया था। इसके बाद नीलम को कोर्ट में पेश कर रिमांड पर लिया गया।

पुलिस पूछताछ में कोख की सौदागर और फरीदाबाद की रहने वाली नीलम से जो जानकारियां मिली हैं, पुलिस उनकी सत्यता की जांच कर रही है। अभी तक उसने केवल चार महिलाओं की सरोगेसी और उनमें से तीन का प्रसव कराने की जानकारी दी थी। दिल्ली में साकेत स्थित पंजाब नेशनल बैंक की शाखा में नीलम का बचत खाता है। पुलिस ने बैंक से वर्ष 2018 से अब तक खाते में हुए लेन-देन की जानकारी मांगी थी। सोमवार को यह जानकारी पुलिस को मिल गई।

आगरा:कोख की सौदागर नीलम अब उगलेगी राज, घर-ठिकाना खंगालने को फरीदाबाद ले गई पुलिस

एसपी पूर्वी प्रमोद कुमार के मुताबिक, नीलम के खाते में दो वर्ष में 50 लाख रुपये का ट्रांजेक्शन हुआ है। उसके खाते में चार लाख का बड़ा ट्रांजेक्शन दर्ज है। कुछ एक-एक लाख रुपये के ट्रांजेक्शन हैं। नीलम के खाते में वर्तमान में 85 हजार रुपये बचे हैं। यह उसके पकड़े जाने से पहले 18 जून तक की एंट्री है। नीलम ने पूछताछ में बताया था कि एक महिला की सरोगेसी पर चार लाख रुपये खाते में आते थे। इनमें से 50 हजार वह खुद लेती थी। करीब एक लाख रुपये और खाते में आते थे। इनमें से एक महिला पर वह देखरेख में खर्च करती थी।

नीलम के खाते में दो वर्ष में आए 50 लाख रुपयों से पुलिस मान रही है कि उसने इनमें से दस महिलाओं की सरोगेसी कराई होगी। जबकि अभी तक पुलिस को केवल चार महिलाओं की सरोगेसी की ही जानकारी दी थी। नीलम वर्ष 2016 से इस धंधे में थी। इसलिए अब पुलिस ने पीएनबी से उसके खाते के वर्ष 2016 और 2017 की डिटेल और मांगी है। फरीदाबाद के सेक्टर 31 स्थित कॉर्पोरेशन बैंक में नीलम का चालू खाता है। इसकी अभी तक पुलिस को डिटेल नहीं मिली है। इसकी जानकारी मिलने पर पता चलेगा कि इसमें कितने ट्रांजक्शन हुए हैं।

अन्य खबरें