आगरा: कोरोना संक्रमित रवि ने दी गिरफ्तारी, हरीपर्वत अस्थाई जेल से हुआ था फरार

Smart News Team, Last updated: 18/08/2020 08:51 AM IST
  • कोरोना संक्रमित फरार कैदी रवि सिकरवार ने सरेंडर कर दिया है. वो आगरा के हरीपर्वत अस्थाई जेल से फरार हो गया था. उसने भिंड कोतवाली में गिरफ्तारी दी है.
आगरा: कोरोना संक्रमित रवि ने दी गिरफ्तारी, हरीपर्वत अस्थाई जेल से हुआ था फरार

आगरा. कोरोना संक्रमित रवि सिकरवार ने 15 अगस्त को भिंड कोतवाली में गिरफ्तारी दे दी. वह सात दिन पहले हरीपर्वत जेल से फरार हो गया था. 15 अगस्त को उसने खुद भिंड कोतवाली में नाटकीय अंदाज में गिरफ्तारी दे दी. गिरफ्तारी के समय उसके पास से एक चाकू बरामद हुआ है. कहा जा रहा है कि गिरफ्तारी देने में उसके गांव के ही एक युवक ने मदद की है. 

चर्चा है कि रवि की मदद करने वाला वह युवक भिंड कोतवाली में सिपाही है. इंस्पेक्टर अजय कौशल ने बताया कि रवि मूल रूप से अछनेरा का निवासी है. उसके गांव का सिपाही भिंड देहात कोतवाली में तैनात है. हालांकि, पुलिस के पास अभी इस बात का कोई सबूत नहीं है.

दुश्मनों को फंसाने के लिए पिता के शव को लटकाया फंदे पर, 8 पर फर्जी केस किया

बता दें, रवि सिकरवार खंदौली के नंदलाल पुरा का है. चोरी के आरोप में वह देहली गेट स्थित क्वीन विक्टोरिया स्कूल में बने अस्थाई जेल में बंद था. लेकिन 10 अगस्त को वह अस्थाई जेल से फरार हो गया. उसके फरार होने की खबर मिलते ही पुलिस के होश उड़ गए, क्योंकि रवि कोरोना संक्रमित था. अपराधी के भागने और ऊपर से कोरोना संक्रमण फैलने के डर से पुलिस सक्रियता से उसे ढूढ़ने लगी. 

कब्जे का विरोध कर रही बुजुर्ग महिला को दबंगों ने JCB से उड़ाया, घायल

इस बीच 14 अगस्त को पुलिस ने उसके घर पर दबिश दी. लेकिन पहले से सचेत उसकी बहन ने उसे वहां से भगा दिया. जिससे पुलिस ने उसकी बहन को ही गिरफ्तार कर लिया. बताया जा रहा है कि बहन की गिरफ्तारी से रवि डर गया कि उसके परिवार के बाकी रिश्तेदारों को भी गिरफ्तार ना कर लिया जाए. इस डर उसने 15 अगस्त को भिंड देहात कोतवाली में गिरफ्तारी दे दी.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें