क्या-क्या दिन दिखाएगा कोरोना...लॉकडाउन से पहले थे हलवाई, अब हो गए वाहन चोर

Smart News Team, Last updated: Fri, 17th Jul 2020, 9:52 AM IST
  • पुलिस ने उनके पास से दो देशी तमंचे एवं कारतूस बरामद किए गए हैं। उनकी निशानदेही पर लहर पट्टी पुलिया के नीचे से पांच बाइकें बरामद की गईं।
(प्रतीकात्मक तस्वीर)

आगरा में कोरोना लॉकडाउन के ऐसे साइड इफेक्ट देखने को मिल रहे हैं, जिस पर यकीन करना भी मुश्किल हो जाएगा। किसी का पति लॉकडाउन में दूसरी शादी कर ले रहा है तो कोई हलवाई बाइक चोर बन जा रहा है। दरअसल, आगरा के शमसाबाद पुलिस ने राजाखेड़ा रोड के भनपुरा चौराहे के पास दो बाइकों पर तीन युवकों को गिरफ्तार किया है। ये युवक लॉकडाउन से पहले जयपुर में हलवाई के यहां कारीगर थे। मगर अब घर लौट आए हैं तो वाहन चुराना शुरू कर दिया है।

कोरोना इफेक्ट: लॉकडाउन में पतियों ने कर ली दूसरी शादी, पत्नियां कर रही इंतजार..

पुलिस भनपुरा थाने पर चेकिंग कर रही थी। तभी उसे दो बाइकों पर तीन युवक आते दिखे। पुलिस को देख कर ही उन्होंने बाइक मोड़ ली। उनकी बाइकें आपस में टकरा गई और फिर वहीं तीनों गिर पड़े। पुलिस तीनों को पकड़ कर थाने ले आई। युवकों ने अपना नाम घनश्याम निवासी भूरी का नगला (बसई अरेला), अशोक एवं शंकर उर्फ भूरा निवासी लहर पट्टी लहर (शमसाबाद) बताया।

कानपुर से आगरा आया सिपाही पति, घर में दारोगा संग मिली सिपाही पत्नी और फिर…

पुलिस ने उनके पास से दो देशी तमंचे एवं कारतूस बरामद किए गए हैं। उनकी निशानदेही पर लहर पट्टी पुलिया के नीचे से पांच बाइकें बरामद की गईं। पूछताछ में उन्होंने बताया कि लॉकडाउन के चलते वह बेरोजगार हो गए हैं। घर का खर्चा चलाने में काफी मुश्किलें आ रही हैं। इसलिए वह चोरी की बाइक चोरी करना, खरीदना बेचना शुरू कर दिया है। थानाध्यक्ष अरविंद कुमार निर्वाल ने बताया है कि तीनों पर थाना शमसाबाद में तीन मुकदमे दर्ज हैं।

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें