अजगर के बाद ताज महल परिसर में फिर मिला 5 फुट लंबा सांप, पकड़ने पहुंची SOS की टीम

Smart News Team, Last updated: 24/08/2020 07:14 PM IST
  • ताजमहल परिसर में  एक बार फिर सांप देखा गया. यह सांप कोबरा के जैसे दिखने वाला रैट स्नेक था. इससे परिसर में तैनात पुलिसकर्मी डर गए. बाद में वाइल्डलाइफ एसओएस की टीम ने रेस्क्यू कर सांप को जंगल में छोड़ा.
सोमवार को ताजमहल परिसर से 5 फुट लंबा रैट स्नेक मिला है.

आगरा. विश्व धरोहर स्थल ताज महल में आज फिर एक और सांप देखा गया. जानकारी के अनुसार ताजमहल की पश्चिम गेट के अंदर स्थित लाल बिल्डिंग पुलिस चौक पोस्ट कमरे के अंदर 5 फुट लंबा रेड स्नेक देखा गया. इससे वहां मौजूद पुलिसकर्मी से डर गए. पश्चिम गेट पर तैनात पुलिस कर्मियों ने इसकी सूचना वाइल्डलाइफ एसओएस को दी.

इसके एसओएस की 2 सदस्यीय की टीम आवश्यक उपकरणों के साथ वहां पहुंची. इसके बाद दल ने बचाव दल ने रेट स्नेक को पकड़ा, जिससे सभी लोगों ने राहत की सांस ली. कुछ घंटों की निगरानी में रखने के बाद सांप को टीम द्वारा वापस जंगल में छोड़ दिया.

आगरा -लखनऊ एक्सप्रेस वे पर आग का गोला बन गई तेज रफ्तार स्विफ्ट कार

दरअसल, कोरोना महामारी के चलते ताजमहल फिलहाल पर्यटकों के लिए बंद है. ऐसे में लोगों की आवाजाही नहीं होने से यहां जंगली जानवरों को आश्रय मिल रहा है. केवल 5 दिन के अंतराल में ताजमहल में यह दूसरा साँप मिला है.

आगरा: देहात में लोग हुए लापरवाह, कोरोना संक्रमित कंटेनमेंट जोन बढ़कर हुए 69

वाइल्डलाइफ एसओएस को कॉल करने वाले हैंड कॉन्स्टेबल विजय पाल सिंह ने बताया कि हमने चेक पोस्ट के कमरे से अजीब आवाज आती सुनी. जब पास जाकर देखा तो वहां पर एक बड़ा सांप था इससे हम बहुत डर गए। एसओएस की टीम ने पहले भी इस परिसर में इस तरह के बचाव अभियानों को अंजाम दिया है इसलिए इसकी सूचना हमने तुरंत उनको दी. उनकी टीम बचाव अभियान को पूरा पूरा करने में तेज और कुशल थी इसलिए उन्होंने ज़ल्द ही सांप को पकड़ लिया.

आगरा कमिश्नर के पिता की कोरोना से मौत के अगले दिन मां की भी कोविड से मौत

रैट स्नेक एक गैर विषैली प्रजाति है और उत्तरी भारत में से 'धमन' के नाम से भी जाना जाता है. चूंकि ये विषैले कोबरा से मिलते-जुलते होते हैं इसलिए अक्सर इनके देखे जाने पर लोग डर जाते हैं. रेड स्नेक जहरीले नहीं होने पर भी इनके काटने पर बहुत दर्द हो सकता है. खतरा महसूस करने पर ये जोर-जोर से आवाज निकालते हैं.

आगरा: 72 घंटों से पानी की बूंद-बूंद को तरस रही आधी ताजनगरी, परेशान लोग

वाइल्डलाइफ एसओएस के डायरेक्टर कंजर्वेशन प्रोजेक्ट्स बैजूराज एम.वी ने बताया कि इस महीने में ताजमहल परिसर में हमारी टीम द्वारा बचाया हुआ दूसरा यह दूसरा सांप है. पिछले सप्ताह भी ताजमहल के पश्चिमी गेट की तरफ ताज म्यूजियम के बाद 7 फुट लंबा अजगर देखा गया था, जिसे हमारी टीम ने रेस्क्यू कर सफलतापूर्वक जंगल में छोड़ दिया.

इसके अलावा वाइल्डलाइफ एसओएस के सह संस्थापक और सीईओ कार्तिक सत्यनारायण ने कहा कि अक्सर सांपों से जुड़े बचाओ अभियान अत्यधिक संवेदनशील होते हैं. हमने अपनी रेस्क्यू टीम को पूर्ण रूप से प्रशिक्षित किया है इसलिए ऐसे अभियानों को अंजाम देने में वह कुशल है. हम पूरी सावधानी बरतते हैं इसे जानवर को भी अधिक तनाव ना हो.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें