ताज के दीदार को जाने वाले पर्यटकों की एंट्री पर चेकिंग का बदल गया तरीका, अब...

Smart News Team, Last updated: 09/09/2020 11:49 PM IST
  • करीब 6 महीने बाद विश्व धरोहर ताजमहल लोगों के लिए खुल जाएगा. हालांकि कोरोनावायरस बदली परिस्थितियों से अब दो चरणों में 5 हज़ार लोगों को ही प्रवेश मिलेगा. इसके अलावा सी आईएसएफ के जवान डीएफएमडी के जरिए ही लोगों को चेक करेंगे. पहले की तरह अब उन्हें छू कर नहीं चेक किया जाएगा
कोरोना के बीच करीब 6 महीने बाद 21 सितंबर से सैलानियों के लिए खुलेगा ताजमहल

आगरा. ऐतिहासिक धरोहर ताजमहल का अब लोग 21 सितंबर से दीदार कर पाएंगे. कोरोना काल में ताजमहल 188 दिनों के बाद खुलने जा रहा है ऐसे में लोगों को किसी तरह की कोई परेशानी ना हो इसका पूरा ध्यान रखा जाएगा. इसके लिए तैयारियां शुरू की जा चुकी हैं.

आपको बता दें कि लोगों की सुरक्षा और चेकिंग के लिए यहां पर्याप्त इंतजामात होंगे. लेकिन इस कोरोना काल में सीआईएसएफ के जवान पर्यटकों को छूकर चेक नहीं करेंगे. सैलानियों की चेकिंग के लिए उच्च क्षमता की डीएफएमडी से उन्हें गुजारा जाएगा. इसके अलावा जवान सीसीटीवी के जरिए सैलानियों पर नजर रखेंगे.

आगरा पुलिस की बड़ी कामयाबी, नकली पेट्रोल कांड में कारोबारी सहित आठ अरेस्ट

अब ताजमहल की सुरक्षा व्यवस्था के अंतर्गत पूर्वी और पश्चिमी गेट से प्रवेश करने वाले सैलानियों की अब पहले की तरह मैनुअल चेकिंग नहीं होगी. पहले सीआईएसएफ के जवान लोगों के डीएफएमडी से गुजरने के बाद उन्हें हाथों से भी चेक करते थे. इसके अलावा मेटल डिटेक्टर से भी उन्हें चेक किया जाता था. लेकिन कोरोना के बाद परिस्थितियां बदल गई हैं. 188 दिन तक बंद रहने के बाद कोरोना से बचाव के पूरे इंतजामों पर पूरा फोकस किया जा रहा है.

आगरा: दरोगा ने गुंडई दिखाते हुए युवती को डंडों से पीटा, CCTV में कैद हुई घटना

ताजमहल भ्रमण करने आए सैलानियों को प्रवेश के समय डोर फ्रेम मेटल डिटेक्टर (डीएफएमडी) से गुजरना होगा. साथ ले जाने वाले सामान को भी स्कैन किया जाएगा. अब खाने पीने की वस्तुओं को अंदर नहीं ले जाने दिया जाएगा उसे चेकिंग के समय ही रखवा लिया जाएगा. इसके अलावा सीआरपीएफ के जवान हर पॉइंट पर तैनात रहकर सैलानियों की गतिविधियों पर नजर रखेंगे. ताजमहल में 2 गज की दूरी बनाने पर भी फोकस किया जाएगा.

आगरा जिला प्रशासन ने इनकम टैक्स बकायादारों पर कसा शिकंजा, 55 को भेजे नोटिस

इसके लिए और ताजमहल में अभी 2 चरणों में 5 हज़ार लोगों को प्रवेश दिया जाएगा. जबकि कोरोना काल से पहले ताजमहल में प्रवेश करने वाले लोगों की कोई निर्धारित संख्या नहीं होती थी. उस समय करीबन 25 से 30 हज़ार सैलानी ताजमहल का दीदार करने आते रहे हैं. लेकिन कोरोना के समय में अब संख्या के निर्धारित करने से चैटिंग में कोई परेशानी नहीं आएगी.

आगरा: अनलॉक-4 में कीठम पक्षी विहार आज से खुला, इन कोविड नियमों का रखे ध्यान

ताजमहल में तैनात सीआईएसफ के कमांडेंट राहुल यादव का कहना है कि कोरोना काल में सावधानी के साथ फोर्स काम करेगा. दीदार करने आए लोगों की चेकिंग में काफी सुरक्षा बढ़ती जाएगी. इसके साथ ही मुख्यालय से आने वाले सभी निर्देशों का पालन किया जाएगा और फोर्स को पूरी तरह से गाइड किया जाएगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें