आगरा

हिन्दुस्तान की पहल: जो काम शासन-प्रशासन न कर सका, आगरा के दानवीरों ने कर दिखाया

Smart News Team, Last updated: 07/06/2020 10:50 AM IST
  • कोविड-19 महामारी से लड़ रहे एसएन मेडिकल कालेज के योद्धाओं के लिए जितने एयर कंडीशनरों की जरूरत थी, वह अब पूरी हो गई है। कोविड-19 अस्पताल की दोनों यूनिट अब एयर कंडीशंड हो जाएंगी। रविवार को आगरा दानवीर एक साथ 22 विंडो एसी एसएन को सौंपेंगे।
प्रतीकात्मक तस्वीर

कोरोना वायरस कहर के बीच कोरोना योद्धा अपनी जान की बाजी लगाकर मरीजों का इलाज कर रहे हैं। ऐसे में उन्हें ऐसी कोई समस्या नहीं होनी चाहिए, जिससे कोरोना मरीजों का इलाज कर रहे डॉक्टरों को कोई बाधा पहुंचे। आगरा के एसएन मेडिकल कॉलेज में सरकार जिस काम को नहीं कर पाई, प्रशासन जिसके लिए मुंह ताकता रहा, वह काम आगरा के दानवीरों ने कर दिखाया है। कोविड-19 महामारी से लड़ रहे एसएन मेडिकल कालेज के योद्धाओं के लिए जितने एयर कंडीशनरों की जरूरत थी, वह अब पूरी हो गई है। कोविड-19 अस्पताल की दोनों यूनिट अब एयर कंडीशंड हो जाएंगी। रविवार को आगरा दानवीर एक साथ 22 विंडो एसी एसएन को सौंपेंगे।

एसएनएमसी के कोविड-19 अस्पताल में कोरोना संक्रमितों का इलाज चल रहा है। अस्पताल के डॉक्टर, नर्स, वार्ड ब्वाय, सफाई कर्मचारी भीषण गर्मी में पीपीई किट पहनकर सिर्फ पंखों की हवा में मरीजों की सेवा कर रहे थे। पीपीई किट पहनकर आधा घंटा काम करना भी मुश्किल हो रहा था। नतीजन डॉक्टर और स्वास्थ्य कर्मचारी बेहोश होकर गिर रहे थे। प्रस्ताव भेजने के बाद भी सरकार से मदद नहीं मिली। प्रशासन भी कुछ नहीं कर सका।

हिन्दुस्तान की अपील का असर

लिहाजा आपके अखबार 'हिन्दुस्तान' ने आगरा से इसकी अपील की। पहली अपील के बाद ही शहंशाहों की नगरी के दानवीर सामने आए। एसी दान करने का सिलसिला चला। लायन विशाल चेरिटेबल ट्रस्ट ने एक दर्जन स्पिलिट एसी दान किए। एग्रोसेफ फार्मास्युटिकल कंपनी और बीएम अस्पताल ने 10 एसी दान किए। इस तरह एक झटके में ही 22 एसी एसएन को मिल गए। बीच-बीच में शहर के दूसरे दानवीरों ने भी करीब आठ एयर कंडीशनर दिए।

अस्पताल को करीब 30 एसी मिल गए। अब लायन विशाल चेरिटेबल ट्रस्ट ने फिर 22 विंडो एसी देने की घोषणा की है। अध्यक्ष डा. सुशील गुप्ता ने बताया कि रविवार दोपहर एक बजे संस्था के पदाधिकारी एसी लेकर एसएनएमसी पहुंचेंगे। प्राचार्य डा. संजय काला, कोविड के नोडल अफसर डा. प्रशांत गुप्ता की मौजूदगी में अस्पताल को एयर कंडीशनर दान किए जाएंगे।

इंस्टालेशन का खर्चा भी उठाया

रविवार को 22 विंडो एसी देने जा रहा लायन विशाल अब तक 34 एयर कंडीशन भेंट कर चुका है। संस्था ने सिर्फ एसी ही नहीं दिए, अपितु कोविड अस्पताल में इनके इंस्टालेशन का खर्चा भी उठाया है। उन्होंने तकनीशियनों का भी प्रबंध किया है। लाकडाउन में मैकेनिक मिल नहीं रहे थे। खतरे के कारण अस्पताल आने में कतरा रहे थे। मुश्किलों से कुछ तकनीशियन राजी किए गए हैं।

कोविड यूनिट नंबर-2 में लगेंगे

कोविड अस्पताल की यूनिट नंबर एक में विंडो एसी लगने की जगह नहीं थी। लिहाजा दानदाताओं से स्पिलिट एसी देने का अनुरोध किया गया था। बीच में कुछ लोगों ने विंडो एसी भी भिजवाए। उनको यूनिट नंबर दो के लिए सुरक्षित रखा गया था। यहां विंडो एसी लगाने के लिए स्थान है। अब नए 22 एसी भी यहीं लगाए जाएंगे। कोविड यूनिट-दो बाल रोग विभाग में तैयार हो रही है। यहां भी कोविड संक्रमित ‌भर्ती होंगे। सौ बेड की व्यवस्था की गई है। मेडिकल कालेज प्राचार्य डॉ. संजय काला के मुताबिक 37 एसी लगाए जाने की जरूरत है। रविवार को आने वाले एयर कंडीशनर लगाए जाने से यहां एयर कंडीशनर की कमी दूर हो सकेगी।

अन्य खबरें