आगरा न्यूज: पुलिस के खबरी को जिंदा जलाकर हो गया था फरार, अब लगा हाथ

Smart News Team, Last updated: 19/06/2020 07:39 PM IST
  • बिजलीघर चौराहे के पास पुलिस के खबरी को कूड़े के ढेर में जलाने का आरोपी 27 महीने बाद पकड़ा गया है। उस पर 15 हजार रुपये का इनाम था।
पुलिस के खबरी को जिंदा जलाने वाला गिरफ्तार

आगरा में उस आरोपी को पकड़ लिया गया है जो आज से करीब 27 महीने पहले पुलिस के खबरी को जिंदा जलाकर फरार था। बिजलीघर चौराहे के पास पुलिस के खबरी को कूड़े के ढेर में जलाने का आरोपी 27 महीने बाद पकड़ा गया है। उस पर 15 हजार रुपये का इनाम था। खबरी की सूचना पर राजकीय रेलवे पुलिस ने आरोपी को जेल भेजा था। जेल से छूटने के बाद उसने हत्या करके बदला लिया था। इस हत्याकांड में एक आरोपी मार्च 2018 में जेल भेजा गया था।

इंस्पेक्टर रकाबगंज विकास तोमर ने कहा कि चावली, सदर निवासी 25 वर्षीय सूरज कुमार को शुक्रवार को जेल भेजा गया। सूरज नशे का आदी है। नशे के लिए चोरी भी किया करता था। 15 मार्च 2018 को बिजनौर निवासी नजाकत हुसैन ने रकाबगंज थाने में हत्या का एक मुकदमा दर्ज कराया। चित्तौड़ (राजस्थान) निवासी अभिजीत उर्फ डैनी की बेरहमी से हत्या हुई थी। सिर कुचलने के बाद बिजलीघर के पास उसे कूड़े के ढेर में डाल दिया गया था। बाद में आग लगा दी गई थी। छानबीन में जानकारी हुई कि डैनी आगरा फोर्ट स्टेशन के पास ही रहता था। राजकीय रेलवे पुलिस का खबरी था। पुलिस को भी अपराधियों के बारे में सूचनाएं दिया करता था।

चावली निवासी सूरज को डैनी की सूचना पर चोरी के आरोप में जेल भेजा गया था। उसे यह जानकारी हो गई थी कि डैनी ने उसकी पहचान बताई थी। जेल से छूटने के बाद उसने बदला लेने की नीयत से वारदात की थी। हत्या के बाद फरार हो गया था। मुकदमा अज्ञात हत्यारोपियों के खिलाफ लिखा गया था। इस मुकदमे में राहुल राठौर को पूर्व में जेल भेजा गया था। पूछताछ में सूरज का नाम प्रकाश में आया था। उसे वांछित किया गया था। उस पर 15 हजार रुपये का इनाम घोषित था। सूचना पर उसे पकड़ा गया।

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें