आगरा पुलिस ने दो घंटे में गुमशुदा बच्चों को किया बरामद, आरोपी अरेस्ट

Smart News Team, Last updated: 13/12/2020 12:27 AM IST
मेरठ में पुलिस की मुश्तैदी से दो घंटे के भीतर गुम हुए दो बच्चों को सही सलामत बचा लिया. इन्हें आरोपी अपहरण कर ले जा रहा था. पुलिस ने उसका फोन सर्विलांस पर लगा दिया. जिसके बाद लगातार लोकेशन ट्रेस होने पर उसे आखिरकार टोल प्लाजा से हिरासत में ले लिया.
पुलिस ने गुम हुए दोनों बच्चों की सकुशल बरामदगी की.

आगरा: शहर के पुलिस महकमे में दो बच्चों के गुम होने से हड़कंप मच गया. पुलिस को शिकायत मिलते ही हरकत में आ गई और कुछ घंटों में ही अपहरण हुए बच्चों को सही सलामत बचा लिया. यह गिरफ्तारी बच्चों की मां के द्वारा बताई जानकारी के अनुसार हुई. पुलिस ने अपहरणकर्ता के मोबाइल नंबर को सर्विलांस पर लगा दिया. जिसकी लोकेशन ट्रेस होने पर ग्वालियर रोड पर पड़ने वाले सैंया टोल प्लाजा पर नाकेबंदी कर दी. फिर आई एक प्राइवेट बस की जांच हुई तो आरोपी को पकड़ा गया.

मुगल पुलिया(ताजगंज) निवासी पूनम का पति दीपू राठौर अपने पुराने साथी लोकेंद्र के साथ इसी पुलिया पर शराब पीने के लिए निकला था. इस दौरान दोनों बच्चे भी साथ थे. बता दें कि दोनों दोस्त पूर्व में श्रीराम कॉलोनी, डबरा में पड़ोसी थे. केस में रौचक बात तो यह थी कि बच्चे भी लोकेंद्र को अच्छे से जानते थे. 

आगराः फुटवियर इंडस्ट्री पर कोरोना की मार, लॉकडाउन के डर से नहीं हो रहे ऑर्डर कंफर्म

जब दीपू कुछ सामान लेने के लिए गया, तभी घात लगाए बैठा लोकेंद्र दोनों बच्चों को अपने साथ लेकर चलता बना. फिर कुछ देर बाद दीपू लौटा तो उसे जगह पर कोई नहीं मिला. जिसकी जानकारी उसने पत्नी पूनम को दी. जिसके बाद पत्नी ने शाम 5 बजे पुलिस को लोकेंद्र को अपने साथ दो वर्षीय यश और तीन वर्षीय खुशी बच्चों के ले जाने की बात बताई.

बच्चों का अपहरण कर साथ ले गया आरोपी पुलिस की गिरफ्त में आया

परिवार पर टूटा मुसीबत का पहाड़, पहले बेटे की मौत और अगले दिन हुई घर में चोरी

इधर जानकारी मिलते ही पुलिस भी आनन-फानन में ग्वालियर रोड स्थित सैंया टोल प्लाजा पर चेकिंग शुरू कर दी थी. फिर शाम 7 बजे टोल पर झांसी जा रही प्राइवेट बस नंबर एमपी 06, डीए 7077 पहुंची. पुलिस ने बस की तालाशी ली तो पिछली सीट पर दो बच्चों के साथ युवक बैठा मिला. जिसकी जानकारी ताजगंज पुलिस को दी गई, तो उन्होंने इस बात की पुष्टि कर दी. आरोपी इस दौरान नशे की हालत में था.

आगरा में घर की दीवारों से मिली कच्ची शराब, चूल्हे के नीचे पाए गए पौवे

वहीं, इस प्रकरण पर एसपी सिटी रोहन बोत्रे प्रमोद का कहना है कि दो बच्चों के अपहरण की सूचना पर पुलिस मुश्तैदी के साथ आरोपी को पकड़ने में लग गई. इसी तेजी के चलते दोनों बच्चों को दो घंटे के भीतर बरामद कर लिया गया. इन बच्चों के माता-पिता को इन्हें सौंप दिया है. अभी आरोपी से पूछताछ चल रही है. 

देश का दूसरा सबसे प्रदूषित शहर बना आगरा, दिल्ली व गाजियाबाद को भी छोड़ा पीछे

यूपी को-ऑपरेटिव बैंक के ग्राहकों को जल्द घर बैठे मिलेगी नेट बैंकिंग की सुविधा

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें