विदेशी कॉल गर्ल सेक्स रैकेट की दलाल रोशनी बोली- जुबान खुली तो बेनकाब होंगे कई

Smart News Team, Last updated: 10/07/2020 10:26 AM IST
  • अनैतिक देह व्यापार निवारण अधिनियम में जेल गई सेक्स रैकेट की सरगना रोशनी नागवानी गिरफ्तारी के बाद भी भयभीत नहीं है। गिरफ्तारी के दौरान बेखौफ लहजे में रौशनी ने पुलिस से कहा कि ज्यादा सवाल-जवाब की कोशिश नहीं करें, वरना उसने जुबान खोली तो कई बेनकाब हो जाएंगे।
Agra sex Racket case (File Photo)

आगरा में 15 साल से कॉल गर्ल का सेक्स रैकेट चला रही सबसे बड़ी दलाल रोशनी ने एक तरह से पुलिस को ज्यादा सवाल-जवाब न करने की चुनौती दी है। अनैतिक देह व्यापार निवारण अधिनियम में जेल गई सेक्स रैकेट की सरगना रोशनी नागवानी गिरफ्तारी के बाद भी भयभीत नहीं है। गिरफ्तारी के दौरान बेखौफ लहजे में रौशनी ने पुलिस से कहा कि ज्यादा सवाल-जवाब की कोशिश नहीं करें, वरना उसने जुबान खोली तो कई बेनकाब हो जाएंगे।

आरोपी रोशन ने कहा, ‘मुझसे ज्यादा सवाल-जवाब हुआ तो सिर्फ रईसजादे ही नहीं फंसेंगे। बदनामी की छीटें खाकी के दामन पर भी आएंगे।’ वह 15 साल से इस धंधे में है। बेखौफ होकर काम करती है। बिना सेटिंग यह कैसे संभव है। वह होटल में एक-दो कमरे नहीं लेती थी। पूरा होटल ही महीनों के लिए किराए पर ले लिया करती थी। वहां सिर्फ उसके रूम लगते थे।

आगरा में 15 साल से कॉल गर्ल का सेक्स रैकेट चला रही सबसे बड़ी दलाल गिरफ्तार

पुलिस को ही धमकी

बता दें कि बीते दिनों मारुति सिटी कॉलोनी निवासी रोशनी और उसके साथी राहुल मिश्रा को ताजगंज पुलिस ने पकड़ा था। दोनों पर 15-15 हजार रुपये का इनाम घोषित था। रोशनी से ताजगंज पुलिस ने पूछताछ का प्रयास किया। उसने उल्टा पुलिस को ही धमकाने का प्रयास किया। तेज आवाज में बोलने लगी। कहने लगी कि उसकी जुबान नहीं खुले इसमें ही सबकी भलाई है। उसने किसके लिए क्या किया है यह उजागर हुआ तो कई लोग बेनकाब हो जाएंगे। अभी तो सिर्फ उसकी ही बदनामी हो रही है। उसका यह रूप देखकर पुलिस कर्मी हैरानी में पड़ गए। लगा कोई नया बवाल नहीं खड़ा हो जाए। इससे पूर्व जब रोशनी पकड़ी गई थी, कई पुलिस कर्मियों की बलि चढ़ गई थी। इसलिए पुलिस ने उससे ज्यादा पूछताछ करना उचित नहीं समझा।

विदेशी युवतियों की सबसे बड़ी सप्लायर

रोशनी आगरा जोन में विदेशी युवतियों की सबसे बड़ी सप्लायर है। रशियन और उज्बेकिस्तान की युवतियों को वह ठेके पर आगरा लेकर आती थी। होटल में रुकाती थी। उनके पास ग्राहकों को भेजा करती थी। पुलिस के अनुसार, विदेशी युवतियों के लिए कमरा उनकी असली आईडी पर बुक कराया जाता था। सितारा होटलों में युवतियां जाती थीं तो वहां दूसरी व्यवस्था रहती थी। वहां दो ग्राहक और युवती के लिए अलग-अलग कमरे बुक कराए जाते थे। ग्राहक मौका मिलते ही युवती के कमरे में आ जाता था। इससे कभी किसी को शक नहीं होता था। सितारा होटल से भी वहां के कर्मचारी युवतियों के लिए सीधे उससे संपर्क करते थे।

रोशनी के तीन मोबाइल में चार हजार नंबर

रोशनी नागवानी के पास से पुलिस ने तीन मोबाइल फोन बरामद किए थे। दो मोबाइल में उसने अलग-अलग नंबर से व्हाट्स एप चालू कर रखा था। उसके मोबाइल में पुलिस को चार हजार से अधिक नंबर मिले हैं। पुलिस ने बताया कि एक-एक नंबर पर हुए मैसेज चेक किए जाएंगे। मोबाइल फोरेंसिक लैब भेजे जाएंगे, ताकि दूसरों के खिलाफ भी और साक्ष्य जुटाए जा सकें।

शहर में एक दर्जन से ज्यादा एजेंट

रोशनी ने अपना नेटवर्क बहुत बड़ा कर लिया था। उसने अलग-अलग क्षेत्रों में अपने एजेंट बना लिए थे। वे ग्राहक तलाशते थे। युवतियों के लिए उससे संपर्क किया करते थे। रोशनी ने यह काम अपने आप को सुरक्षित रखने के लिए किया था। वह सीधे उन्हीं ग्राहकों के संपर्क में रहती थी जो सालों से उससे जुड़े हैं। पुलिस को रोशनी के मोबाइल में 18 साल से लेकर 60 साल की उम्र तक के ग्राहकों के नाम और नंबर मिले हैं।

बैंक खातों की जानकारी जुटा रही

पुलिस ने बताया कि रोशनी के बैंक खातों की जानकारी जुटाई जा रही है। उसने गलीच धंधे से बहुत धन कमाया है यह उसके बैंक खातों से ही साबित किया जा सकता है। रोशनी तलाकशुदा है। उसके पास इतना पैसा कहां से आया। गाड़ियां कहां से खरीदती है। इन सवालों के जवाब उससे बाद में पूछे जाएंगे। पहले उसके बैंक खातों की जानकारी जुटाई जा रही है। पुलिस को उसका आधार कार्ड और पैन नंबर मिला है। पुलिस यह पता लगा रही है कि इन नंबरों से कितने खाते लिंक हैं। उनमें कितना कैश है। पिछले दो साल में कितने रुपये का ट्रांजक्शन हुआ है।

अन्य खबरें