सेना भर्ती के लिए बनाता था फर्जी दस्तावेज, बन चुका करोड़ों का मालिक, गिरफ्तार

Smart News Team, Last updated: Tue, 14th Jul 2020, 10:01 AM IST
  • आगरा पुलिस ने सेना में भर्ती कराने के लिए फर्जी दस्तावेज बनाने वाले गिरोह के सरगना को गिरफ्तार किया है।
फर्जी दस्तावेज बनाने वाला गिरफ्तार

आगरा. भारतीय सेना में भर्ती के लिए फर्जी डॉक्यूमेंट तैयार करने वाले गिरोह का सरगना राकेश पुलिस के हत्थे चढ़ गया। राकेश के ऊपर पुलिस ने 25 हजार का इनाम रखा था। रविवार को आगरा की ताजगंज पुलिस ने राकेश को गिरफ्तार किया। इस गिरोह के चार सदस्यों को पुलिस ने पहले ही गिरफ्तार किया था, जिसमें एक राकेश का पिता भी शामिल है। राकेश इस धंधे से करोड़ों की संपत्ति बना चुका है।

एसएसपी बबलू कुमार के अनुसार, दस दिन पहले सेना भर्ती के लिए फर्जी दस्तावेज तैयार करने वाले गैंग का पर्दाफाश हुआ था जिसमें बुढ़ाना निवासी उदय और बुलंदशहर निवासी जितेंद्र को जेल भेजा गया था। इनके अलावा बरेली में इसी मामले में बुलंदशहर निवासी अभ्यर्थी आकाश और उसके पिता को भी जेल भेजा गया था।

झुमका बेचकर दी पति की सुपारी, फोन पर चीख सुनकर प्रेमी से बोली- बधाई हो

पुलिस पूछताछ के दौरान इन लोगों ने गैंग का सरगना राकेश चौधरी को बताया था। इसके बाद से पुलिस राकेश की तलाश में जुटी थी। बुढ़ेरा गांव का रहने वाला राकेश चौधरी की मां गांव की प्रधान है। राकेश अभ्यर्थियों से फर्जी दस्तावेज के लिए पांच से छह लाख रूपये तक लेता था।

राकेश ने इस धंधे से करोड़ों की संपत्ति अर्जित की है। पुलिस ने अपनी जांच में पाया कि राकेश चौधरी और उसके पिता उदय चौधरी ने मिलकर इस धंधे से करोड़ों रूपये कमाए हैं। आरोपी राकेश वह ना सिर्फ फर्जी दस्तावेज बनाता था बल्कि मेडिकल की परीक्षा में पास कराने के लिए भी पैसा लेता था।

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें