आगरा: थाने में बहू ने किया सास बदलने का ऐलान, पति के साथ रहने से भी किया इंकार

Smart News Team, Last updated: Fri, 25th Dec 2020, 7:41 PM IST
  • आगरा के जगदीशपुरा थाना क्षेत्र में एक बहू ने थाने में आकर अपनी सास को बदलने का ऐलान कर दिया है. इसी के साथ ही महिला ने अपने पति के साथ भी रहने से इंकार किया. महिला ने ननद के बेटे साथ रहने की जिद्द ठानी हुई है.
फाइल फोटो

आगरा: आगरा के जगदीशपुरा थाना क्षेत्र में एक बहू ने थाने में आकर अपनी सास को बदलने का ऐलान कर दिया है. इसके साथ ही महिला ने अपने पति के साथ भी रहने से इंकार कर दिया. हैरान करने वाली बात तो यह है कि महिला ने अपने ननद के बेटे के साथ रहने की भी काफी जिद की है. वहीं ननद ने भी अपनी भाभी को बहू के रूप में स्वीकार करने से साफ इंकार कर दिया. ननद ने धमकी भी दी कि अगर उसकी भाभी उसके बेटे के साथ रही तो वह जान भी दे देगी.

जगदीशपुरा थाना क्षेत्र के एक ऑटो चालक की शादी सात साल पहले शाहगंज की युवती से हुई थी. दंपति के दो बच्चे भी हैं लेकिन महिला का प्रेम संबंध अपनी ही ननद के बेटे के साथ हो गया. महिला के प्रेम संबंध का पता उसके परिवार को भी नहीं चला. 

अमित शाह को मामा बताकर ठगी कर रहा था फर्जी भांजा, विधायक को भी नहीं छोड़ा

महिला का प्रेमी दिल्ली के एक कंपनी में काम करता है. इससे इतर बीते 14 अक्टूबर को ही महिला अपने पति और बच्चों को छोड़कर गायब हो गई. तलाश के बाद पति ने थाने में महिला की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई.

पति ने होटल में रेड मारकर आशिक संग रंगरेलियां मनाती बीवी को रंगे हाथ पकड़ा

दस दिन पहले महिला के पति के पास उसका फोन आया, जिसमें उसने बताया कि वह ऋषिकेश के पास कहीं रह रही है. महिला ने अपने पति से वहां आकर उसे वापस ले जाने की भी बात कही. महिला का पति उसे वापस अपने साथ ले आया और जब वह थाने उसकी बरामदगी का बयान दर्ज कराने साथ ले गया तो महिला ने थाने में ही अपने सुर बदल लिये. उसने अपने पति के साथ जाने से इन्कार कर दिया, साथ ही सास बदलने का भी ऐलान किया. 

पहला पति अवैध संबंध के सदमे से मरा, दूसरे ने मोड़ लिया मुंह, प्रेमी के घर गई तो…

विवाहिता ने थाने में ही बताया कि वह ननद के बेटे से प्यार करती है और उसके साथ ही शादी करना चाहती है. वहीं, इस रिश्ते को स्वीकारने से इंकार करते हुए ननद ने कहा कि वह बेटे को छोड़ सकती है, लेकिन अपने भाई को नहीं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें