आगरा: बस हाईजैक मामले में तीन गिरफ्तार, मुख्य आरोपी को हुई जेल

Smart News Team, Last updated: 21/08/2020 08:59 PM IST
बस हाइजैक कांड में तीन अन्य आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है. मुख्य आरोपी प्रदीप गुरुवार को मुठभेड़ में घायल हुआ था. पुलिस अन्य आठ आरोपियों को पकड़ने के लिए छापेमारी कर रही है.
आगरा बस हाईजेक मामले में तीन आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है.

आगरा. बस हाईजैक मामले में तीन अन्य आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है. जबकि घटना में शामिल अन्य आठ आरोपियों की तलाश जारी है. चित्राहठ थाना क्षेत्र में पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ में दोनो पक्षों से गोलियां भी चली थीं जिसमें मुख्य आरोपी घायल हो गया था.

गौरतलब है कि मंगलवार को गुरुग्राम से मध्य प्रदेश के पन्ना जा रही बस को रात में मलपुरा क्षेत्र में दक्षिणी बाईपास पर हाईजैक कर लिया गया था. बस में 34 यात्री सवार थे. मामला सामने आने के बाद आगरा से लखनऊ तक दहशत फैल गई थी. बुधवार दोपहर बस उत्तर प्रदेश के इटावा में मिली थी. जबकि सवारियां दूसरी बस से छतरपुर (मध्य प्रदेश) के लिए गई थीं. 

सीसीटीवी फुटेज से एक आरोपी की पहचान प्रदीप गुप्ता के रूप में हुई थी. पुलिस ने गुरुवार की सुबह फतेहाबाद क्षेत्र में एनकाउंटर में प्रदीप को गिरफ्तार कर लिया था. पुलिस के साथ मुठभेड़ में प्रदीप के पैर में गोली लगी थी. दरअसल प्रदीप का ग्वालियर निवासी कल्पना ट्रैवल के मालिक अशोक अरोड़ा से उसका लेन-देन का विवाद था.  

आगरा: 1 सितंबर से ताजमहल और आगरा किला छोड़कर खोले जाएंगे सभी स्मारक

अशोक अरोड़ा की मौत के बाद उसे लगा कि रुपये नहीं मिलेंगे, इसलिए उसने उनकी बस को हाईजैक कर लिया था. इस घटना में उसके साथ कुल 12 लोग शामिल थे.जिसमें से आठ बदमाश बस हाईजैक करने आए थे जबकि चार अन्य ने दिल्ली और गुरुग्राम में बस की लोकेशन बताई थी. 

आगरा: डॉ योगिता हत्याकांड मामले में विवेक पर एससी-एसटी एक्ट में मुकदमा दर्ज

पुलिस को आरोपियों के पास से एक चोरी की बाइक भी बरामद की है. मुख्य आरोपी प्रदीप को जेल भेज दिया गया है जबकि अन्य की तलाश में पुलिस अभी दबिश दे रही है. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें