आगरा में ट्रैफिक पुलिस से भिड़े विधायक के गनर , कहा- 'गिरा-गिरा पीटेंगे'

Pratima Singh, Last updated: Sun, 6th Mar 2022, 9:29 PM IST
  • आगरा में नो एंट्री के दौरान एक विधायक की गाड़ी में बैठे बंदूकधारियों ने बैरियर हटाते हुए ट्रैफिक पुलिस से अभद्रता की और नियम तोड़त हुए जबरन गाड़ी निकाल ले गए.
आगरा में ट्रैफिक पुलिस से भिड़े विधायक के गनर

आगरा: उत्तर प्रदेश के आगरा जिले में विधायक के गनरों की दबंगई का मामला सामने आया है. नो एंट्री के दौरान एक विधायक की गाड़ी में बैठे बंदूकधारियों ने बैरियर हटाते हुए ट्रैफिक पुलिस से अभद्रता की और नियम तोड़त हुए जबरन गाड़ी निकाल ले गए. मामला छटीकरा थाना क्षेत्र जैंत के अंतर्गत स्टेट बैंक चौराहा वृंदावन रोड छटीकरा का है, शनिवार को यातायात-थाना जैंत पुलिस कर्मी बेरियर पर तैनात थे.

पुलिस का कहना है कि यातायात-थाना जैंत पुलिस कर्मी बेरियर पर वो तैनात थे, तभी विधायक लिखी गाड़ी आकर रुकी, जिसमें से गन लिए लोग निकले और उनसे रोड पर लगे बैरियरों को हटाने को कहा. ये सुनने के बाद जब ड्यूटी पर तैनात पुलिसकर्मियों ने नो एंट्री का हवाला देते हुए बैरियर हटाने से इन्कार कर दिया. पुलिस का आरोप है कि इसी बात पर विधायक के दोनों बंदूधारियों ने पुलिसकर्मियों पर भड़क गए और साथ उनके अभद्रता भी की.

पुलिस ने बताया कि उन्होंने धमकी देते हुए कहा कि बैरियर हटाते हो या नहीं, अभी इनको फेंक दिया जाएगा. पुलिस के हैड कांस्टेबल भूपेंद्र सिंह यादव ने जब उनसे बताया कि हाईकोर्ट के जज आने वाले हैं, जाम की स्थिति पैदा हो जाएगी. इसलिए बैरियर नहीं हटाए जाएंगे. आप नियमानुसार जाइए अथवा जज को निकल जाने का इंतजार कीजिए. लेकिन ये सुन विधायक के गनर गुस्से में आ गए और बोले कि सारी हेकड़ी दो मिनट में भुला दी जाएगी. गिरा-गिराकर पीटा जाएगा.

पत्नी की आगरा पुलिस से शिकायत- Gay है पति, साथ करता है ऐसा गंदा काम

पुलिस का कहना है कि सूचना पर वहां पहुंचे चौकी नयति प्रभारी रोहित कुमार ने विधायक के गनरों को समझाने की कोशिश की. लेकिन वे उनके साथ भी अभद्रता करने लगे. मौजूद राहगीरों ने गनरों को समझाने का प्रयास किया, लेकिन वे जबरन नो एंट्री क्षेत्र से ड्यूटी पर तैनात पुलिसकर्मियों को हड़काकर कार को निकाल ले गए. आरोप है कि इस दौरान कार सवार महिला ने खुद को जनपद इटावा की विधायक सरिता भदौरिया बताते हुए कह दिया कि सरकार हमारी है और विधायक के साथ आपका बर्ताव ठीक नहीं है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें