पुलिस ने पकड़ा ई-रिक्शा चालक तो सारे कपड़े उतार कर भागा, पहुंचा DM आवास के सामने

Smart News Team, Last updated: Fri, 6th Aug 2021, 3:17 PM IST
  • आगरा के एमजी रोड पर ई-रिक्शा प्रतिबंधित है. सोमवार को साई की तकिया चौराहे पर पुलिस ने एक ई-रिक्शा पकड़ लिया. इस दौरान पुलिस ने रिक्शा में जा रही सवारियां उतार दी. इसे देख ई-रिक्शा चालक ने अपने कपड़े उतार निर्वस्त्र हो एमजी रोड पर दौड़ने लगा. डीएम आवास के सामने पहुंच चालक रोने लगा.
पुलिस ने पकड़ा ई-रिक्शा चालक तो सारे कपड़े उतार कर भागा, पहुंचा DM आवास के सामने

आगरा. एमजी रोड पर ई-रिक्शा चलाने की अनुमति नहीं है. पुलिस ने सोमवार को साई की तकिया चौराहे पर एक ई-रिक्शा पकड़ लिया. इस दौरान पुलिस ने रिक्शा में जा रही सवारियां उतार दी. इसे देख ई-रिक्शा चालक ने अपने कपड़े उतार निर्वस्त्र एमजी रोड पर दौड़ने लगा. डीएम आवास के सामने पहुंचकर चालक रोने लगा. इस दौरान उसने कई आरोप भी लगाए. 

यह घटना शाम करीब साढ़े चार बजे की है. ई-रिक्शा चालक हरिदेव मिश्रा टीला गोलकपुरा (लोहामंडी) में रहता है. वह नामनेर चौराहे की तरफ से कीन सवारियां लेकर आ रहा था. उसे साई की तकिया से कलक्ट्रेट होत हुए पुलिस लाइन की ओर जाना था. इस दौरान साई की तकिया चौराहे पर तैनात ट्रैफिक पुलिसकर्मी ने ई-रिक्शा पकड़ लिया. उस पर बैठी सवारियों को उतारकर भगा दिया. 

इसे देख चालक होमगार्ड से उलझते हुए कहना लगा कि ई-रिक्शा नहीं चलाएगा तो किश्त कैसे भरेगा. होमगार्ड ने जवाब देते हुए उसे उल्टा बोल दिया. बस फिर क्या था चालक गुस्से में आ गया. अपने कपड़े उतारकर एमजी रोड़ पर फेंक दिए. दौड़ लगाते हुए डीएम के घर से सामने पहुंच गया. कहने लगा कि वह क्या करें. पुलिस मेहनत करके भी कमाने नहीं दे रही है. 

ई-रिक्शा चालक ने बताया कि उसका डायट के सामने एक खोखा है. जिससे कि खर्चा नहीं निकल रहा. इस कारण 21 महीने पहले पौने तीन लाख रुपये में ई-रिक्शा फाइनेंस कराया था. हर महीने 12 हजार रुपये किश्त देनी होती है. ई-रिक्शे से वह 15 हजार रुपये हर महीने कमाता है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें