आगरा

आगरा: कोरोना काल में सबसे पहले आएगा UP बोर्ड रिजल्ट, CBSE वालों का बढ़ेगा इंतजार

Smart News Team, Last updated: 10/06/2020 09:58 AM IST
  • जुलाई के मध्य तक सीबीएसई और सीआईएससीई की लंबित बोर्ड परीक्षाएं होनी है। ऐसे में परीक्षा का रिजल्ट जुलाई के आखिरी या अगस्त के शुरूआती सप्ताह में जारी हो पाएगा। हालांकि यूपी बोर्ड से दसवीं और बारहवीं की परीक्षा देने वाले छात्रों को राहत जरूर है क्योंकि उनका रिजल्ट सबसे पहले जारी होने की उम्मीद है।
प्रतीकात्मक तस्वीर

 

आगरा। कोरोना वायरस के मद्देनजर देशभर में 24 मार्च से लॉकडाउन शुरू किया गया, जिसकी वजह से 10वीं और 12वीं के छात्रों की बोर्ड परिक्षाएं भी अटक गईं। इसी वजह से अब छात्रों को रिजल्ट का भी लंबा इंतजार करना होगा। दरअसल जुलाई के मध्य तक सीबीएसई और सीआईएससीई की लंबित बोर्ड परीक्षाएं होनी है। ऐसे में परीक्षा का रिजल्ट जुलाई के आखिरी या अगस्त के शुरूआती सप्ताह में जारी हो पाएगा। हालांकि यूपी बोर्ड से दसवीं और बारहवीं की परीक्षा देने वाले छात्रों को राहत जरूर है क्योंकि उनका रिजल्ट सबसे पहले जारी होने की उम्मीद है।

मालूम हो कि कोविड 19 लॉकडाउन लगने से पहले ही उत्तर प्रदेश बोर्ड की परीक्षा खत्म हो गई थी। लॉकडाउन के दौरान ही बोर्ड ने मूल्यांकन कार्य भी पूरा करा लिया। अब यूपी बोर्ड जून के अंत तक रिजल्ट जारी करने का दावा कर रहा है। दूसरी ओर लॉकडाउन की वजह से सीबीएसई और सीआईएससीई के छात्रों की परीक्षा बीच में ही स्थगित कर दी गई थी। हालांकि, अनलॉक होने के बाद अब बोर्ड परीक्षा कराने की तैयारी में जुट गए हैं लेकिन अब परीक्षा शुरू होंगी तो नतीजों में देरी होना लाजिमी है।

सीबीएसई और सीआईएससीई बोर्ड ने एग्जाम शेड्यूल भी जारी कर दिया है। नौ जुलाई तक सीबीएसई बोर्ड के बारहवीं के छात्रों की लंबित परीक्षा आयोजित होंगी। वहीं नार्थ ईस्ट दिल्ली में यह परीक्षा 15 जुलाई तक चलनी हैं। इसी तरह 14 जुलाई तक सीआईएससीई की परीक्षा भी कराई जाएंगी। आपको बता दें कि सीआईएससीई की कई परीक्ष बाकी हैं। साथ ही अभी तक हुई परीक्षाओं का मूल्यांकन भी पूरा नहीं हो पाया। वहीं जुलाई में होने वाली परीक्षा का मूल्यांकन कराने में थोड़ा समय लगेगा। इस वजह से रिजल्ट के लिए छात्रों को अगस्त तक का इंतजार करना पड़ सकता है।

अन्य खबरें