कासगंज कांड में आगरा के देवेंद्र शहीद, 2 मई को होनी थी एकलौती बहन की शादी

Smart News Team, Last updated: 10/02/2021 01:12 PM IST
 शराब माफियाओं के हमले में आगरा के सिपाही देवेंद्र शहीद हो गए. देवेंद्र आगरा के गांव नगला बिंदू के निवासी थे. साथ ही दो मई को देवेंद्र की एकलौती बहन प्रिया की शादी होनी थी. मंगलवार को शराब माफियाओं के हमले में देवेंद्र शहीद हो गया था.
कासगंज कांड में शहीद सिपाही देवेंद्र सिंह की तीन बर्ष और 4 माह की पुत्री वैष्णवी और दिव्यांशी.

आगरा: आगरा के डौकी थाना क्षेत्र के गांव नगला बिंदू निवासी यूपी पुलिस में सिपाही देवेंद्र सिंह कासगंज की घटना में शहीद हो गया. देवेंद्र के शहीद होने की सूचना पाकर परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल हो गया है. 2 मई को इकलौती बहन प्रीति की शादी होनी थी. परिजनों के अनुसार कुछ दिनों पहले बहन की सगाई के मौके पर देवेंद्र गांव आया था. देवेंद्र 2015 में पुलिस में भर्ती हुआ था और 2017 में उसकी शादी हुई थी. उसकी तीन साल और तीन माह की दो पुत्री हैं.

देवेंद्र के शहीद होने की सूचना पर पूरे गांव में मातम पसरा हुआ है. रो-रोकर पत्नी चंचल के आंसू सूख गए हैं. रोते हुए पत्नी एक बार बोल रही है मेरा देवेंद्र मुझे लौटा दो. तीन साल की बेटी वैष्णवी को तो मालूम ही नहीं है कि उसके ऊपर से बाप का साया उठ गया है. वह पापा को याद करके कभी हंसने, तो कभी रोने लगी है. वहीं तीन माह की बेटी दिव्यांशी को पूरा गांव आज दुलार कर रहा है. देवेंद्र के पिता ने कहना है कि, "मेरा एक ही बेटा था. वह माफियाओं से लड़ते हुए शहीद हुआ है. उसकी मौत को बदलना विभाग को लेना चाहिए.

गरीब मजदूर की बेटी ने बनाया नेशनल एथलेटिक्स में रिकॉर्ड, जीता गोल्ड मेडल

क्या थी घटना

मंगलवार की देर शाम कासगंज में शराब माफिया ने एक वारदात को अंजाम दिया. शराब माफिया के मकान के कुर्की के लिए नोटिस चस्पा करने गए दारोगा अशोक कुमार सिंह और सिपाही देवेंद्र कुमार को शराब माफिया मोतीराम ने पकड़ लिया. इस दौरान माफियाओं ने पीट-पीटकर सिपाही को मौत के घाट उतार दिया गया, जबकि दारोगा की हालत गंभीर बनी हुई है. जानकारी के अनुसार दोनों गांव से डेढ़ किलोमीटर दूर खेत में बंधक मिले. सिपाही के सिर पर धार-दार हथियार से हमला किया गया. देर रात कई थानों की फोर्स के साथ पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंच गए थे.

आगरा : एक्सपायरी दवाओं को रिपैक कर बाजार में बेचते थे दो भाई, बन गए करोड़पति

जिला पंचायत बोर्ड की बैठक में प्रस्तुत किया गया 2021-22 का वार्षिक बजट

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें