जनमाष्टमी से पहले सील हुआ इस्कॉन मंदिर, 3 पुजारी समेत 22 निकले कोरोना संक्रमित

Smart News Team, Last updated: Tue, 11th Aug 2020, 7:59 PM IST
  • आगरा मंडल के वृंदावन इस्कॉन मंदिर को जनमाष्टमी से एक दिन पहले सील कर दिया गया है. मंदिर में 3 पुजारी समेत 22 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं.
आगरा मंडल का इस्कॉन मंदिर सील हुआ.

आगरा. इस्कॉन मंदिर को कृष्ण जनमाष्टमी पर सील किया गया. आगरा मंडल के इस्कॉन मंदिर में 22 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं जिसमें से 3 पंडितों को भी कोरोना ने अपनी चपेट में लिया. 

इस्कॉन मंदिर इंटरनेश्नल सोसाइटी ने वृंदावन के मंदिर को सील कर दिया है. मंगलवार को जनमाष्टमी से एक दिन पहले मंदिर को बंद करने का फैसला लिया गया. मंदिर कोरोना संक्रमण में पहले ही बंद था लेकिन जनमाष्टमी के उत्सव की तैयारियां चल रही थीं. 

आगरा: सोता रह गया परिवार और चोरों ने कर दिया 9 लाख रुपयों का माल साफ

मथुरा के डीएम सर्वाज्ञय राम मिश्रा ने कहा कि पूरे इलाके को कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया गया है. वहीं प्रोटोकॉल के अनुसार किसी को भी इलाके में आने-जाने की अनुमति नहीं है. इस्कॉन मंदिर सोसाइटी के वक्ता रवि लोचन दास ने बताया कि करीब 350 लोग मंदिर के संपर्क में थे. जिनमें से 22 को कोरोना पॉजिटिव पाया गया है. 

आगरा में अपराधियों का आतंक, तेरहवीं से लौट रहे युवक की गोली मारकर हत्या

रवि लोचन दास ने बताया कि सभी लोग मंदिर के आश्रमों में सेल्फ आइसोलेश में चले गए हैं. डीएम ने मथुरा और वृंदावन आने वाले सभी लोगों को शहर में ना आने के लिए कहा है. वहीं सोमवार से आगरा मंडल के मथुरा क्षेत्र में आने पर पाबंदी है जो गुरूवार तक जारी रहेंगी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें