चिकित्सकों से हुई 20 लाख रुपये की ठगी की कोशिश, मामले की जांच जारी

Smart News Team, Last updated: 17/10/2020 04:18 PM IST
  • आगरा और मथुरा जिले में चिकित्सकों के साथ 20-20 लाख की ठगी करने का मामला सामने आया है. हालांकि, खुद चिकित्सकों ने ही इस ठगी का भांडाफोड़ दिया. मामले की जांच आगरा के वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने साइबर सेल को सौंप दी है, जहां फोन कॉल की लोकेशन का पता लगाया जा रहा है.
आगरा और मथुरा में चिकित्सकों के साथ 20-20 लाख की ठगी करने का मामला सामने आया

आगरा: आगरा और मथुरा जिले में चिकित्सकों के साथ 20-20 लाख की ठगी करने का मामला सामने आया है. हालांकि, खुद चिकित्सकों ने ही इस ठगी का भांडाफोड़ दिया. इसके साथ ही मामले की जानकारी एडीजी जोन अजय आनंद और आगरा के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक बबलू कुमार से कर दी गई है. एएसपी ने मामले की जांच साइबर सेल को सौंप दी है, वहीं अधिकारियों ने ठक का मोबाइल नंबर भी साइबर सेल को दे दिया है, जिससे कॉल डिटेल और लोकेशन का पता किया जा रहा है.

चिकित्सकों को ठगने के लिए ठग ने खुद को भारत संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) का अधिकारी बताते हुए फोन किया और कहा कि वह इनके अस्पतालों को बीएसएनएल के पैनल में शामिल करा देगा. अस्पताल के पैनल में आने के बाद बीएसएनएल के हजारों कर्मचारी उस अस्पताल में इलाज कराएंगे, जिससे उन्हें लाखों का फायदा होगा. ठग ने कहा कि इसके जरिए अस्पताल को करीब 2-2 करोड़ रुपये भी मिलेंगे. इस बात के लिए ठग ने चिकित्सकों से 20-20 लाख रुपये की रिश्वत देने की मांग की. इस मामले को लेकर चिकित्सकों ने बीएसएनएल के अधिकारियों को फोन किया और पता किया कि यह ठगी का मामला है.

आगरा सेंट्रल जेल के कैदियों को जल्द मिलेगा गंगाजल, प्रस्ताव पर हो रहा विचार

ठग ने चिकित्सकों को पैसे मिठाई के डिब्बे में लाने की भी बात कही थी. उसने कहा कि पैसा मिठाई के डिब्बे में लेकर आना. इसे वह ले लेगा और बाद में ऊपर (आला अफसरों के पास) के आला पहुंचा देगा. इसके बाद बड़े अधिकारी अस्पताल का मुआयना करने के लिए आएंगे. बीएसएनएल के प्रधान महाप्रबंधक सूर्यकांत ने बीते शुक्रवार को बताया कि इस ठगी की जानकारी एडीजी जोन अजय आनंद और आगरा के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) बबलू कुमार से की गई है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें