बुर्के में अदालत पहुंचा भाजपा नेता का हत्यारा, पुलिस को नहीं लगी भनक

Smart News Team, Last updated: Fri, 6th Nov 2020, 4:39 PM IST
  • भाजपा के नगला बीच मंडल उपाध्यक्ष दयाशंकर उर्फ डीके गुप्ता हत्याकांड आरोपी शार्पशूटर दुर्गेश यादव ने बीते गुरुवार को सीजेएम (मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट) न्यायालय में आत्मसमर्पण कर दिया. भाजपा नेता का हत्यारा अदालत में बुर्का पहनकर और महिलाओं की चप्पल पहनकर आया था.
बुर्के में अदालत पहुंचा भाजपा नेता की हत्या का आरोपी

आगरा: भाजपा के नगला बीच मंडल उपाध्यक्ष दयाशंकर उर्फ डीके गुप्ता हत्याकांड आरापो शार्पशूटर दुर्गेश यादव ने बीते गुरुवार को सीजेएम (मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट) न्यायालय में आत्मसमर्पण कर दिया. हैरान करने वाली बात तो यह है कि भाजपा नेता का हत्यारा अदालत में बुर्का पहनकर और महिलाओं की चप्पल पहनकर आया था. उसने अपने इस लुक से पुलिस तक को चकमा दे दिया और न्यायालय के प्रांगण में घुस गया था. 

पुलिस को दुर्गेश यादव के अंदर जाने और समर्पण करने की भनक तक नहीं लगी. बताया जा रहा है कि आरोपी दुर्गेश यादव ने न्यायालय कक्ष में जाने से पहले गैलरी में उसने बुर्का उतार दिया.

बता दें कि टूंडला में नगला बीच में भाजपा नेता दयाशंकर उर्फ डीके गुप्ता की 16 अक्तूबर को हत्या कर दी गई थी. इस मामले को लेकर पुलिस ने 25 अक्तूबर को सात आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था. रिपोर्ट के मुताबिक जमीनी विवाद के कारण डीके गुप्ता की हत्या सुपारी देकर कराई गई थी. इस मामले में हत्या की सुपारी लेने वाला.

  यूपी: अब 108 एम्बुलेंस होगी सामने, फिर भी मरीजों को मदद की उम्मीद नहीं

दुर्गेश पुत्र चंद्रपाल फरार चल रहा था. वहीं, पुलिस की टीमें उसकी गिरफ्तारी के लिए लगातार कोशिशें कर रही थीं. इससे इतर हत्यारे दुर्गेश ने अदालत में आत्मसमर्पण के लिए अर्जी लगाई थी और बीते गुरुवार उसने न्यायालय में आत्म समर्पण कर दिया. 

कानपुर: लेखपाल को लड़की के साथ डांस करना पड़ा भारी, वीडियो वायरल, सस्पेंड

आरोपी दुर्गेश यादव के समर्पण की जानकारी मिलते ही एसओजी टीम न्यायालय के बाहर सक्रिय हो गई थी. इस बारे में अधिवक्ता अजय ओझा ने बताया कि गुरुवार को दुर्गेश अपनी पत्नी, भाई, गांव की तीन महिलाओं के साथ न्यायालय के बाहर पहुंचा. वह बुर्का और महिलाओं की चप्पल पहने हुए था. वह अपने अधिवक्ता अजय ओझा के बस्ते तक पहुंच गया. इसके बाद उसे तत्काल न्यायालय में हाजिर किया गया. वहीं, थाना प्रभारी नारखी विनोद कुमार का कहना है कि समर्पण करने के बाद भी उसे रिमांड पर लेकर पूछताछ की जाएगी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें