आगरा:कोख की सौदागर नीलम अब उगलेगी राज, घर-ठिकाना खंगालने को फरीदाबाद ले गई पुलिस

Smart News Team, Last updated: 04/07/2020 06:42 PM IST
  • आगरा में कोख की सौदागर नीलम को शनिवार को फतेहाबाद पुलिस ने अपनी कस्टडी रिमांड पर लिया। सोमवार की सुबह दस बजे उसे जेल में दाखिल करना है। पुलिस की टीम उसे अपने साथ फरीदाबाद ले गई है।
प्रतीकात्मक तस्वीर

आगरा में कोख की सौदागर नीलम को शनिवार को फतेहाबाद पुलिस ने अपनी कस्टडी रिमांड पर लिया। सोमवार की सुबह दस बजे उसे जेल में दाखिल करना है। पुलिस की टीम उसे अपने साथ फरीदाबाद ले गई है। वहां उसके बताए ठिकानों पर दबिश देगी। बिहार की उस महिला की तलाश करेगी, जिसने नर्सिंग होम में जुड़वा बच्चों को जन्म दिया था। उन महिलाओं को खोजेगी नीलम, जिसने कोख का सौदा किया था।

फतेहाबाद पुलिस ने नीलम, रूबी सहित पांच लोगों को जेल भेजा था। बीते दिनों लखनऊ एक्सप्रेस वे पर किराए के कोख का गैंग पकड़ा गया था। इनके कब्जे से तीन नवजात बच्चियां मिली थीं, जिन्हें ये नेपाल छोड़ने गए थे। वहां बॉर्डर सील होने के कारण गोरखपुर से वापस लौटकर आ रहे थे। सटीक सूचना पर पुलिस ने दो गाड़ियों को रोका था।

यह भी पढ़ें- आगरा: कोख के सौदागर का काला चिट्ठा खंगालेगी पुलिस, 10 दिन की रिमांड पर सुनवाई आज

सेरोगेसी के इस गिरोह के तार नेपाल से जुड़े हुए हैं, जहां सेरोगेसी प्रतिबंधित है। इसलिए वहां एक हॉस्पिटल संचालक महिला नीलम के जरिए किराए की कोख का सौदा करती थी। महिला को नेपाल बुलाया जाता था। गर्भधारण की पूरी प्रक्रिया नेपाल में कराई जाती थी।

लॉकडाउन के चलते नहीं हुए मंसूबे पूरे

डिलीवरी के समय महिला को नेपाल बुलाया जाता था। इस बार दो महिलाएं लॉक डाउन के कारण नेपाल नहीं जा सकी थीं। इसलिए उनकी डिलीवरी फरीदाबाद में ही कराई गई थी। नीलम ने दो नवजात बच्चों को इलाज के लिए फरीदाबाद के एक नर्सिंग होम में भी भर्ती कराया था। यह खुलासा फरीदाबाद के डॉक्टरों के बयान में हुआ था। इस तरह नीलम के पास पांच नवजात बच्चे थे। तीन बरामद हुए। दो कहां गए। इन बच्चों की असली मां कौन-कौन हैं। पुलिस यह पता लगाने का प्रयास कर रही है।

मोटी रकम व किराए की कोख...नेपाल में बिकने थे 3 नवजात बच्चे, पुलिस ने ऐसे दबोचा

पड़ोसियों से मिलेगी अहम जानकारी

सीओ फतेहाबाद विकास जयसवाल ने बताया कि नीलम फरीदाबाद में गिरधावर एन्क्लेव, गली नंबर एक थाना पन्ना की निवासी है। पुलिस उसे साथ लेकर पहले सीधे उसके घर गई है। ताकि उसके पड़ोसियों से भी उसके बारे में जानकारी की जा सके। पुलिस टीम में इंस्पेक्टर फतेहबाद प्रदीप कुमार, एसओ चित्राहट अमित कुमार, एसआई जितेंद्र, एक महिला दरोगा और एक महिला सिपाही शामिल हैं। पुलिस रिमांड पर नीलम से ज्यादा से ज्यादा जानकारी लेने का प्रयास करेगी। ताकि इस केस में आगे बढ़ा जा सके।

अन्य खबरें